Your Question - Our Answers!

You are most welcome to ask any question regarding Rekha Ji!

Comments

Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Chaya, No its not true that Rekha left Rajnikant’s Rana due to Mr. Bacchan. I don’t know why people connect them in every matter. If she walk out from the film then there some reason. Rekha is that kind of actress who works only when she feels like it.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Umesh ji , I received your entry regarding the last discussion question on the site n I appreciates it a lot but I want to clear one thing that the Question of Discussion segment changes on every 26th of the Month after that we not accept any single entry in it. So please send your entry in this segment before 26 of every month.
Chaya said…
Rishabh I m agreed that She only works when she wants, but dear it also be heard that she left Rana due to some financial reason! So what you say on this matter?
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Chaya, there is nothing like that n there is no Financial reason behind it. If you have any doubt or any Question ?? then I would like to share something very interesting thing regarding this matter from some very reliable sources .
My dear friends,
I am not at all surprised that Rekha asked for 4 crores and when she did not get
the asking price she said no. This is The Rekha we are talking about , she does
not need money or work any more, she works when she feels like it. In Pareenita
she was paid 2 crores for one dance where Sanjay Dutt and Saif did the entire
movie for 7 crore each. She has enough money and fame to last her a life time.
Apart from a select few celebs in entire bollywood every star lives in posh
apartments apart from Rekha and Amitabh and a very few other celebs who live in large houses in Juhu. Rekha's house is worth more than 50 crores and not to
mention she has a very posh flat as well facing the sea in Bandra which she uses
as her office. If you look up on the net you will find Rekha bought an island in
Dubai recently. What does this all tell us she is not short of money and besides
no top award show is complete without her , the lady has worked her entire life
let her enjoy and take the mickey a little bit.I am very proud of her, Rekha
will work when she is ready. WE ALL LOVE YOU REKHA JI.
Uttpal said…
सारेगामा म्यूजिक लौंच समारोह में रेखा द्वारा बोली गयी शायरी में उनका इशारा अमिताभ की तरफ था, आज 30 साल बाद भी ये सिलसिला थमा नहीं है,आपके हिसाब से क्या ये रिश्ता जायज है??
Anazai said…
Hello RISHAB,
Can u tell me when APJKTH will be released and what is REKHAJI's next movie????????????
Thanks in advance.
Moderator- Rishabh Sharma said…
उत्पल जी आपकी नज़र में जायज की परिभाषा क्या है ?? पहले आप यह बताइए की क्या -क्या जायज है?? यह सब नजरिये की बात है, सिर्फ इतना फर्क है की जब अंगुली दूसरे की तरफ उठे तो नाजायज और जब अंगुली का इशारा अपनी तरफ हो तो ????? आप शायद समझ ही गए गए होंगे.... यहाँ मैं रेखा का बचाव नहीं कर रहा हूँ , आपको जायज शब्द का मतलब बता रहा हूँ, क्या आप पति -पत्नी के उस रिश्ते को जायज मानते हैं ? जहाँ शादी का मतलब सिर्फ साथ- साथ रहना हो , साथ साथ जीना नहीं, जहाँ दो लोग सिर्फ बिस्तर बाँटते हो जिन्दगी नहीं , बात आदत की नहीं ज़रूरत की है,बस वही अपना -अपना नज़रिया है, और वैसे भी परस्पर सहमति और साझेदारी से बनाया गया कोई भी रिश्ता नाजायज नहीं होता है, और फिर प्यार कोई गुनाह तो नहीं! और फिर सवाल हमेशा रेखा से ही क्यों किया जाता है,??अमिताभ से क्यों नहीं? रिश्ते का मतलब दो लोगों से होता है, न सिर्फ एक से...
सवाल तो आपको उस हर रिश्ते से पूछना होगा जहाँ इतनी गुंजाईश कैसे रह जाती है की किसी तीसरे की ज़रूरत पड़ जाती है ! कैसे इतनी जगह बन जाती है की कोई तीसरा आ सके?? ये कैसे संभव है??When you are in a Relationship

किसी दूसरे के बारे में सोच भी सकें या कोई और इस दिल में उतर भी जाये?? यानि की पहला रिश्ता कमज़ोर था, खाली था , फिर इल्जाम किसी दूसरे पर क्यों ?? और सवाल सिर्फ एक से ही क्यों??
Sorry मैं यहाँ किसी पत्नी या जया बच्चन के खिलाफ नहीं हूँ , वो तो बहुत ही समझदार पत्नी हैं, पर रिश्तों के बारे में जो सच्चाई है उसे आप सामजिक दर्ष्टिकोण से देख रहे हैं, व्यक्ति या इंसान के नजरिये से नहीं , आप एक पत्नी के नजरिये से देख रहे हैं एक प्रेमिका के नजरिये से नहीं! किसी भी रिश्ते का सच सिर्फ वही जानते हैं जिनके बीच वो रिश्ता रहा हो , उनके बीच क्या था, क्या नहीं ये सिर्फ वही जानते हैं यह ना आप , ना मैं और ना ही कोई और जानता है, और अगर है भी तो प्यार करने का कोई कानून तो नहीं ,
Love is Natural, it can’t be developed सिर्फ एक बार इस रिश्ते को एक व्यक्ति के नजरिये से देखिये ... ज़रा सोच कर देखिये आपको भी प्यार हो जायेगा फिर से ........ और हाँ प्यार कभी भी गलत नहीं होता गलत होते हैं तो सिर्फ हालत !!!
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Anazai first of all so sorry to you for the delay in your answer, anyway On last 16th March 2011 , we meet Mr. Satrughan Sinha regarding the film “ Aaj Phir Jeene Ki Tammna hai” then Mr Sinha said to us that the film is completed but it takes some more time in its releasing.
It may be released in August or September. And dear after leave the project of Rajnikant’s “Rana” Rekha has no new Project in her hand. if any news then surely I share with you.
RIYA PATHAK said…
RISHBH JI
maine abhi you tube me rekhaji ka vedio dekha filmfare lifetime achivement award un me unhone sab ka jikar kiya sirf amitabh ko chhodkar is bat ko nakara nahi ja sakta ki unke filmi safar me ek amitabh bhi important our popular co star rahe he ha agar vah controversy se bachna chahti he to vah jaya bhaduri abhishekh se milti kyo he amitabh ke filmo ke premiure attend kyo karti he aur unki filmo me dubbing kyou karti he kuchh samaj me nahi aa raha kuchh bhi kaho muje to bahot bura laga jab unhone amitabh ka jikar nahi kiya ya unhe thanks bhi nahi kaha. mai sochti yhi ki ye vahi rekha he jinko aaj bhi yuva pedhi apana adrsh manti he unjaisa dikhana chahti he sach kahu to muje samaj nahi aa raha tha ki rekha ki ittane fans is umra me bh phir jab maine gor kiya to unka multiple skills reallY she is great par inki yah chij muje dukhi kar gai jab unhone amitabh ka jikar nahi kiya vah itani selfish kaise ho sakti he agar vo sachi he to in controversy aur afawa se kya gabharana ?phir aisa kyo?
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Riya first thanks to you for your question but dear don’t say like that… अगर आपने अपने प्रशन से पहले उत्पल जी द्वारा पूछा गया प्रशन पढ़ा होता तो आप शायद आप अपना प्रशन पूछती ही नहीं, उत्पल जी द्वारा पूछे गए प्रशन में रेखा जी का इशारा अमिताभ जी की तरफ ही था, देखा ना कितनी अजीब बात है ना ?? अगर वो अमिताभ का जिक्र भी करती हैं तो हाय - तौबा मच जाती है , और अगर उनका नाम का जिक्र ना करें तो आपको बुरा लग जाता है, अब इस बात पर आप क्या कहना चाहेंगी ???? और जहाँ तक बात उस शो की है तो that show was Completely Scripted like a Scripted Reality Show जिसके लिए बाकायदा Rehearsal की गयी थी , वैसे भी सच तो सभी जानते ही हैं की वो बिग - बी की कितनी इज्ज्ज़त करती हैं और उनके दिल में उनके लिए क्या है जगह है , यह बात भी सारी दुनिया बखूबी जानती है , Anyways अगर उन्होंने उनके नाम का जिक्र नहीं भी किया तो जानते हैं ऐसा क्यों हुआ?????????

बकौल रेखा ....................

“ जो चाहते हो सो कहते हो , चुप रहने की लज्जत क्या जानो
यह राजे मोह्हबत है प्यारे तुम राजे मोहब्बत क्या जानो ??
RIYA PATHAK said…
RISHABH JI

MAI FILMFARE AWARD LIFE TIME ACHIEVMENT AWARD KI BAT KAR RAHI THI JOO REKHAJI KO MILA THA AUR AAP NE KAHA KI VAH Show was Completely Scripted जिसके लिए बाकायदा Rehearsal की गयी थी YAH KAISE HO SAKTA HE HA SCREEN AWARD KE LIYE SHAHRUKH KHAN, SHAHID KAPOOR
AUR REKHA NE REHEARSAL KI THI PAR FILMFARE LIFE TIME ACHIEVEMENT AWARD KE LIYE SAMAJ ME NAHI ATA
Wajid Khan said…
Dear Rishabh, पहले दिल चीज़ क्या है, फिर परदेसिया और अब फिल्म Thank you का गीत प्यार दो प्यार लो का रीमिक्स .. क्या रेखा ही सबसे हिट फ़ॉर्मूला है?? क्या कहना है आपका ??
Moderator- Rishabh Sharma said…
Oh Riya I m really sorry for my mistake, okay….
You are talking about filmfare Award function! BUT dear what about the all interviews n moments ?????
जहाँ वो एक भी मौका हाथ से जाने नहीं देती "उनका" जिक्र किये बगैर....
Infact उनके हर Interview में "He " का मतलब ही अमिताभ से होता जिस पर दुनिया ने हमेशा ऐतराज़ किया . But some time she don’t want any Controversy because she knows "वो क़त्ल भी करते हैं तो चर्चा नहीं होता हम आह भी भरते हैं तो हो जाते हैं बदनाम....
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Wajid ji its true that , she is a Trendsetter और बॉलीवुड में हमेशा ही उन्हें कॉपी किया गया है, फिर चाहे बात मेकअप की हो , hair स्टाइल की हो या costumes की , और कभी उनकी फिल्मों के नाम तो कभी किरदार जैसे खूबसूरत , ये रास्ते हैं प्यार के, और उमराव जान , और अब उनके hit गीतों को फिर से रीमिक्स करके उनकी सफलता को भुनाया जा रहा है , अब इस बात से ही उनकी लोकप्रियता का अंदाजा लगाया जा सकता है , पर क्या आपको नहीं लगता की यह सब मिलकर भी वो चमक , वो खुशबू वो असली जादू पैदा नहीं कर सकते , जो सिर्फ उनकी मौजूदगी के एहसास से पैदा हो जाता है ,
Anazai said…
Hi Rishab
AS Riya has raised a question regarding Big B.... I just want to know the full story of our lovable Rekhaji n Big b. Were they really in love, if yes plz elaborate n Y they split? I have heard about it but never get to read in detailed about it. PLz elaborate in detail. THANKS.
Moderator- Rishabh Sharma said…
हज़ार बार कहा गया , हज़ार बार सुना गया, फिर भी किसी जुबां में , वो दर्द ना लिखा गया……
Dear Anazai "That it was not love, it was more than love, more than Romance,
Deep…Deep….Deeper n more Deeper……
A Honest , True, Pure, Endless Feeling…….… this is not a story which you can express in words.
It is something like that which nobody can explained or understand, about this relationship. Even Rekha herself.
You know what its mean for Rekha………..
“आग़ाज़ तो होता है…………….
अंजाम नहीं होता ……….
जब मेरी कहानी में उसका नाम नहीं होता…………………..
Dear As I already says that it was more than love, more than Romance or you can take all love from World like mother’s love, father’s love, friend love
and and and …………… add some more love in to it that kind of relation they have. And Finally
I just want say .........
सिर्फ एहसास है , इसे रूह से महसूस करो प्यार को प्यार ही रहने दो कोई नाम ना दो ...........
Zubin said…
Dear Moderator, Do you Know that Mr. Kapil Sharma making a film Titled" Sitaare" on Rekha's life? So what you think about it that Is he Justify with Rekha n Her Mysterious Life???
sapna said…
a new filmmaker (Kapil Sharma) has decided to make a film based on Rekha Ji's real life.what do you think will Rekha Ji support or allow them to complete their film?even based on her life she will not play lead role in this film what do you say?
Shazia Yussof said…
Dear Rishabh is it true there will be a movie called SITAARE its about REKHA JI. If its true pls make sure the storyline worth to die for.There a lot of indie cinema directors i know from US wants to cast REKHA JI.let me know
Preti said…
Dear Rishabh, I heard that In the Exclusive issue of Asia spa , there is a lengthy Interview of Rekha, Is it True??
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear, Zubin, Sapna n Shazia, first thanks to all of you for your question.
Yes Dear it is true that that Mr. Kapil Sharma willing to making a film titled “Sitaare” on Bollywood Diva Rekha’s life and Honestly I m so scared about it because its not an easy task to make a film on Actress Rekha’s life and justify with her as a person. Because there are so many rumors, scandals, false stories, controversies about her life.
I also talked directly to Mr. Kapil Sharma about it and I said to him................
Dear kapil before you making it, you must know about the Rekha as a Human not an Actress, you should understand her as Real Woman. You should feel her pain, her struggle, her tragedies and all depth of her dark side and you should know what is wrong, what is right & what is the real truth?? And dear the most important thing is that “No one Can be Rekha” because it’s very important for every Actress who plays Rekha on screen to justify with her Extreme talent n Glamours Image n High Persona.
And kapil replied me that.....

Dear Rishabh thanks so much for your genuine n frank suggestions. Rekhaji is my favorite too n can never put her in poor light. But my film is actually not on her life but my heroine’s character is inspired by her. But at present I don’t want to speak details of my film to media n pubic as the story of film may then get leaked out .of course I will take help from u whenever needed.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Preti yes its true that In this exclusive issue you can read a Interview of Gorgeous Rekha with her marvelous Photographs . I want to tell you one more thing , Dear it is the first time in last 40 years that an Exclusive 44 pages Booklet publish on the Original Diva Rekha. So Grab your Copy of Asia Spa Magazine Now and Enjoy.
Riya Pathak said…
rishabh
i want to know that who was raja khara i have hered about him with rekha's affair is it true?
sneha said…
hi Rishabh
Simi Garewal is coming back with her latest chat show "The Most Desireble" based on single celebrity,that was only Simi who could make it possible to invite Rekha ji in her last show.what do you say will it possible to see Gorgeous Rekha once again because its very difficult to watch her appearence on small screen ?
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Riya, I am here is my Answer……
Raja Khara was a Businessman and he met with Rekha in a Filmi Function. He was soo impressed by Rekha’s beauty and wants to marry with her even Raja’s family also want to accept Rekha as their “Bahu” Rekha also meet them once but She was not prepared that time and the story was over BUT the Kind Hearted Press & Media publish this news with lots of Masala . So there is Nothing like Affair or Romance kind of thing, even not friendship between Rekha and Raja Khara.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Sneha You are absolutely right that the Beautiful Simi Garewal is coming Back with her News making Chat Show “ The Most Desirable” which is based on Single personality anyway like you ,I am also eagerly waiting for this Special Show and I love to watch beautiful Simi in her white outfit . As all of us knows very well that its very difficult to watch Rekha’s appearance on small screen so it not easy to invite Rekha in this show and till today there is No confirmation that Gorgeous Rekha is coming in this Show or not! But We have a great hope from Simi Garewal who can make it possible because before this Show she already invite Rekha in her last Chat Show Titled “Rendezvous with Simi Garewal .So don’t loose your heart , just wait till 12th June , for its telecast on Star Plus.
Anonymous said…
Hi you guys are doing a fabulous job..just one request let us also know what is the status of her films - the one film that you keep on promoting aaj phir jeene ki tamanna hai has no recent update..further has she signed any new film...need to know all this - plus is she still giving interviews and all - how does she spend her day when she is not modeling, not giving interviews nor signing films...advise
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear friend first of all thanks to you for appreciating our work and dear According to Rekha herself her upcoming film “Aaj Phir Jeene ki tammana hai” is surely released in this year except it she not sign any New film. Dear one more thing she still doing photo shoots n still giving her interviews, you can read Rekha’s Exclusive interview in Asia Spa’s Exclusive Supplement of this month and if you talk about her daily routine work then dear I would like to say that she is very creative and Artistic person who live her life at fullest. When she is not busy in shooting or modeling then she busy in painting, Dress designing, Planting, cooking n so many interesting activities.
Zubin said…
Hi Rishabh, I like Diva Rekha’s Exclusive shoot which she did for Asia Spa magazine & I read all fabulous comments of viewers but personally I would like to know your views on this Amazing Shoot ??
Chirag said…
Dear Rishabh Is it true that Rekha is not Part of Krissh 2 ????
RIYA PATHAK said…
Rishabh

Is it true that rekha has been signed for movie BHOOT - 2 by nitin manmohan and vikram bhatt?
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Zubin first thanks to you for appreciating Rekha’s exclusive photo shoot for Asia Spa Magazine, dear this is the lifetime gift for all Rekha fans around the world and all are so happy including me But I enjoyed her very Exclusive and very special interview more than her photos. I love her thoughts , her feelings even every single word of this beautiful interview. I never seen such kind of beautiful Woman like her , honestly I am not able to express my feelings in words.
I just want to say that ……..
Rekha is most beautiful creation of God, she is probably one and only one Incredible beauty in this World , Really I am speechless to see her undefined beauty and glamour. She is wonderful and Amazing!! She is like a Miracle . She surprised her fans , her audience every time . I am amazed to to see her that how she portrayed herself as a Glamors Actress, as Diva with such Great Elegance and grace,
Infact I didn’t find any word in any Vocabulary or any description about her Beauty But I know very well that She is REKHA and she can do everything beyond your expectations. I still remember that once Ajay devgan said in his Interview that
रेखा और मडोना दुनिया के ऐसे दो व्यक्तित्व हैं जिनसे आप कभी भी ,किसी भी उम्र में चमत्कार की उम्मीद कर सकते हैं पर क्या आपको ऐसा नहीं लगता की इतना कुछ कहने और लिखने के बाद भी कहीं कुछ रह जाता है मेरा मानना है की आजतक कोई भी कैमरा या किसी भी फिल्म या फोटो में हम उनकी पूरी ख़ूबसूरती नहीं देख पाए , वो जितनी खूबसूरत दिखती हैं वो उससे भी कहीं ज्यादा खूबसूरत हैं , यह मेरा बस नज़रिया भर नहीं पूरा सच है, लोगों के लिए रेखा एक शरीर (Body) है और मेरे लिए एक चेहरा जिसकी आँखों के आर- पार देखा जा सकता है, वो जिसकी मुस्कराहट नकली फिल्मों में भी असली नज़र आती हैं, उनकी ख़ूबसूरती उनकी खुशबू बनकर उनके किरदारों में बस जाती है वो रेखा जो उम्र के बढ़ने के साथ -साथ और अधिक खूबसूरत हो जाती है ,
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Chirag its true that Rekha is not a part of Krissh 2 and I m soo happy for it because I don’t want to see her in Dadi kind of roles where as she is soo gorgeous and stunning. Dear not only me even her all fans wants to see her some Glamors and challenging roles.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Riya , thanks for asking your Question Anyway I just want to tell you thing that everything is a rumor until it’s not confirmed from Rekha herself. so dear how I say that Rekha has been signed for film Bhoot-2 .
Bunty said…
It's an Universal Truth that Rekha is the Most Beautiful Actress of Indian Cinema but I want to know that Ever this most Beautiful Woman Jealous from someone???
riya said…
hii
ap kehte ho ki sirf Rekha hi hai jo aj bhi young actress ka mukabla kar sakti hai magar jaha tak maine dekha hai Simi garewal unse bhi zayada young lagti hai balki aj bhi Simi ko unke samne khada kar diay jaaye to Rekha se zayada Simi hi young lagegi with perfect figure and sweet voice more then Rekha aur jabki unko to koi make up tricks bhi nahi pata Rekha ki tarah.kya ap is baat se agree hai?
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Bunty Do you know that Anger, happiness, jealous, love, Greediness, all are natural things of human being. And Rekha is also a Human first than a Actress, so it could be possible with anyone you , me, and also with Rekha. I still remember her honest confess in her Interview that ….

"I am still human. I am jealous of people who can play instruments. Madly jealous of Yoyo Ma. Vanessa Mae. Of people who can swim. I never learnt it earlier because I was shy of getting into a costume. Now I'm not.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Riya , Why you comparing two very good friends Rekha and Simi ??Dear both are very fond to each other from a very long time.And I want to tell you one thing that I m also a great admire of Simi ji, there is no doubt that she is beautiful, and so graceful and maintained herself very well till today and Dear Not only simi but Hema ji, Sri, Dimple Kapadia also maintained herself very beautifully.

Everyone has their own uniqueness and quality so you can’t compare between them. After four decades, in bollywood , you can easily replace Rekha with any young actress’s role , this is the only thing which you expect from Rekha not others. That’s called High glamour and persona.
और जहाँ तक सवाल Simi को Rekha के सामने खड़ा कर देने का है तो dear यह अपने आप में बहुत ही अपरिपक्व प्रशन है , यहाँ मैं आपकी बात खारिज नहीं कर रहा हूँ बल्कि बताना चाहूँगा की आज भी जिन भूमिकाओं में रेखा नज़र आती हैं ,वहां पर आप उनके दौर की किसी भी एक्ट्रेस तो क्या उनसे आधी उम्र की एक्ट्रेस को भी स्वीकार नहीं कर सकते .
RIYA PATHAK said…
Dear Rishabh
i have read question of riya about simmi garewal and Rekha i felt very bad because riya is also my name my name is RIYA PATHAK but i am not that riya.ok any way
i have read somewhere that rekha has two close friends her make-up woman Hatija, Surinder an airhostess would you give information about them more
thanks
Chaya said…
अगर मैं आपको रेखा से मिलवा दूँ तो????
Moderator- Rishabh Sharma said…
Hi Riya Pathak, I read your Question but dear before giving the answer I would like to tell you something that Rekha the Diva is a platform which is all about Rekha, her life, her career, but not belongs to those people who connected to Rekha. So it not right to give each detail of every person who is connected to her because we can’t go beyond the limit anyway here is your answer…..
There are only few people who have access to her are her best friend and secretary Farzana, her make-up woman cum hair dresser Hatija, Surinder, an air-hostess and a friend in Hyderabad.
Rekha’s friend Surinder Makan is an Air hostess and Rekha met with her in flight and after that they became very good friends to each other. Surinder is married woman and lived in Delhi with her family.
Hatija is Rekha’s hair dresser’s Rabani sister. she is not only a good friend of Rekha. She was her personal dresser in past and also helped her in makeup.
Moderator- Rishabh Sharma said…
Hi Chaya how are you??
I am so happy to see you that you become a very regular visitor of site, Infact a very active Rekha fan, I would like to say thanks to you for asking such a interesting question on site’s Discussion of the Month. anyway lets come to your Question, First it’s a very interesting and a sweet imagination. But dear it’s not so easy like your Question its like ..
ये इश्क नहीं आसान , बस इतना समझ लीजे ,एक आग का दरिया है और डूब के जाना है......
वाजिद खान said…
रिषभ मैंने रेखा के बहुत से fan देखे हैं , मगर आपसे बड़ा चाहने वाला और fan नहीं देखा , मगर मैं जानना चाहता हूँ की आपकी नज़र में क्या आपसे भी बड़ा कोई fan है ???
Mini Jhonson said…
Dear Moderator , there are so many opinion about Rekha's Birth year , her Marriages, her Manglik Dosh etc.
I am So confused about it so dear can you share her Horoscope if you have ???
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear वाजिद जी आपका यह सवाल , सुनने में जितना सीधा और सपाट है , इसका जवाब उतना ही मुश्किल है, infact यह एक ऐसा सवाल है जो अपने गर्भ में और भी बहुत से सवाल लिए हुए है, इतने सारे सवालों के मेरे पास सिर्फ आधे जवाब हैं और आधे आपके पास , अगर हम बात प्यार की करें तो प्यार तो सभी करते हैं, और किसी से भी यह पूछना की आप कितना प्यार करते हो ??? सिर्फ और सिर्फ प्रेम का अपमान है , प्यार और दर्द को न तो कभी मापा जा सकता है और नहीं तोला , प्यार सिर्फ प्यार होता है , और वो हर इंसान जो "रेखा "से प्यार करता है जिसमे उनके लिए कुछ कर गुजरने का जज्बा है, वो हर इंसान मुझसे बड़ा है... बहुत बड़ा....
मैं उस हर इंसान की बहुत कद्र करता हूँ जिसमे सच्चाई और प्यार है , और रेखा डी डीवा के माध्यम से मैं ऐसे बहुत से लोगों से मिला हूँ जो उनसे बेहद प्यार करते हैं ,मैं बहुत शुक्रगुज़ार हूँ उस खुदा का की मैं उनके ( रेखा ) के सभी चाहने वालो को एक छत के नीचे एक साथ जोड़ पाया , बहुत ख़ुशी होती है, बेहद तस्कीन मिलती है उन लोगों से ,मिलकर जो उनसे बेहद प्यार करते हैं , उनकी इज्जत करते हैं,कुछ लोग तो ऐसे है जिनका मैं कायल हो गया, जैसे अरिजीत , राजेश ( गुजरात ) अर्जुन , फ़िदा हुसैन जी उन पर to मैं फ़िदा हूँ, सच में यह एक बहुत प्यारा रिश्ता बन गया है जिसने हम सबको बाँधा हुआ है , इन सबके साथ -साथ मैंने उन चाहने वालों को जाना जो उनसे दीवानगी की हद तक प्यार करते हैं, वो लोग जो यह कहते हैं की उनकी (रेखा ) जी फ़िल्में देखकर रो पड़ते है , वो लोग जो उनसे बेपनाह मोहब्बत का दावा करते हैं , वो लोग जिनके प्रोफाइल पर रेखा की अनगिनत फोटोस हैरान कर देने वाली थी, मैंने उन्हें अपनी इस "रेखा डी डीवा" का हिस्सा बनने का निम्रंत्रण दिया लेकिन मैंने पाया वो सब इससे से जुड़ गए मगर रेखा से नहीं ! , वो लोग जो उनकी फिल्मे देखकर रोने का दावा कर रहे थे उन्होंने तो मुझे ही रुला दिया , लोगों से बात करो उनके जवाब तक नहीं आते थे , मैं हमेशा सोचता की मैंने तो right नंबर dial किया था फिर ये बार wrong नंबर कैसे?? समझ नहीं आया ? ऐसा लगता रहा वो (रेखा ) एक ऐसी भीड़ में तन्हा है जो उनके अपना होने का दावा तो करते थे मगर अपने थे नहीं !शायद तभी वो लोगों पर भरोसा नहीं करती, ....
ऐसा लग रहा था उनके fan होने का, उनसे प्यार करने का दावा सिर्फ बस शगल भर था सभी के लिए , मैं हैरान था जब हम किसी प्यार करते हैं तो हम उसे तन्हा कैसे छोड़ सकते हैं, प्यार ऐसा तो नहीं होता?? मैं हर बार उम्मीद करता और लोग मुझे हर बार निराश करते , मैं हर दरवाजा खटखटाता , इंतज़ार करता , और बस इंतज़ार ही करता रहता .......उस वक़्त महसूस हुआ की " सारी ग़लतफ़हमी दूर हो गयी सारी" ..........
ऐसा लगा उम्र भर बहरो में की शायरी , उम्र भर हमसे ये पागलपन हुआ , मैं चलता ही रहा और चेहरे पीछे छुटते जा रहे थे पर प्यार कुछ और ही होता है , वो अपनी भाषा खुद बोलता है , प्यार कभी दावा नहीं करता वो सिर्फ निभाता है , वो कभी साथ नहीं छोड़ता , हमेशा यह अहसास दिलाता है की मैं तुम्हारे साथ हूँ हर पल हर कदम.....
और मैं मिला कुछ ऐसे रिश्तों से जो उनके fans कभी भी नहीं थे , जिन्होंने कभी भी ये दावा नहीं किया की वो उनसे बेइंतेहा प्यार करते है वो लोग जिनके प्रोफाइल पर रेखा की अनगिनत फोटोस नहीं थी Infact मुझसे मिलने से पहले वो उनको ठीक से जानते भी नहीं थे, पर वो लोग जब रेखा से जुड़े तो जुड़ते ही चले गए हर लम्हा हर पल.., रंगते चले गए उनकी रंगत में , वो उनके साथ -साथ चलने लगे , वो लोग जिन्होंने खुद को उनको ही समर्पित कर दिया ना तो मुझे उनका दरवाजा खटखटाना पड़ा और ना ही कभी आवाज देनी पड़ी , उनमे वही सच्चाई , वही शिद्दत , वही कुछ कर गुजरने का जज्बा है जो हमें एक पल भी सोने नहीं देता , जो सही मायनों में सच्चा प्यार है तब मैंने महसूस किया की और मैं ऐसे चाहने वालों को नतमस्तक हो जाता हूँ and I think " Helping Hands are Much Better than Praying Lips" वो जिनके साथ होने की वजह से जिन्दगी आसान हुई ,वो लोग जिनकी वजह से मैं आज यहाँ तक पहुँच पाया हूँ उन सभी के नाम मैं वक़्त आने पर बताऊंगा पर एक नाम है जिसने मुझे भी और भी ना जाने कितनो को मीलों पीछे छोड़ दिया वो है "अमित" , मैं जानता हूँ की वो दिन दूर नहीं जब वो अपनी सच्चाई से अपनी शिद्दत से, अपनी कड़ी मेहनत से "गंगा को प्रथ्वी पर ले आएगा......
आज अमित "रेखा" बन गया है.... इतना समर्पण मैंने आजतक किसी और में नहीं देखा ! मुझे लगता है की वो मुझसे ही नहीं दुनिया में उनका सबसे बड़ा fan है.....
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Mini, without giving my opinion or views about Rekha's Birth year or her Mangilk dosh , I would like to share her Horoscope which is given by one of my close Friend, who is a very famous palmist. so here is your answer......

"Rekha is a School of Acting in herself, very talented and Queen of Hearts yes she is Rekha. Lets see what her stars says , she was born on 10th Oct , 1954. She was born in Madras, the time was 2:30. Her horoscope depicts that there is no Manglik Dosh, her Lagna chart shows the situation of Mars in 9th , the moon chart the Planet mars is situated in 11th house. Her lucky years are 11,25,35,46, 56, she has to be careful 2,28,33,48.If the physique is to be concerned Rekha is benevolent and generous , she is very spiritual with an outstanding Imagination , she is a freedom lover .As far as the nature is concerned she is a freedom lover but some how conceals her true nature,she has a choice of friends and she never makes friends very soon , and requires so much of time .She truly believes in God and has a deep and intense faith in religion .
Rekha is witty , rational, intuitive,creative and forthright, she loves traveling . On the front of health she probably affected by headaches and could be problems related to Stomach. So she needs to be very careful about her health .
Ojasvi Nagpal said…
Dear Rishabh I enjoyed the presence of veteran Bollywood beauties like Dream Girl Hema Malini, Jeenat Aman with younger actresses like Bipasha Basu and Kangana Ranaut in International Jewellery Week.but I love to see the Most fashionable Rekha in that show. People love Rekha very much and want to see her as a showstoppers for various designers and brands in such Event. What you say about it???
Chaya said…
Dear रिषभ I am again back with my new Question. Site के Discussion segment में मेरे द्वारा पूछे गए सवाल के एवज में लोगो ने अपना दिल खोल कर रख दिया और अपने बेहद ख़ास जवाब हमसे बाटें , उनका रेखा के प्रति इतना प्यार देखकर आपकी क्या प्रतिक्रिया है इस बात पर???
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Ojaswi, I can understand your pure feelings that you missing Rekha in IIJW, Dear like you, her all fans also waiting for that Historic day when she do Ramp show , jewellery show for famous designers and brands in such Event. Anyway Like us , the very famous Jewellery Designer- Vijay Golecha also have the same feelings, he said "Everyone, who has worn my jewellery, I created jewellery for Abhishek Bachchan in "Drona". also designed for Aishwarya Rai in her "Umrao Jaan", I had designed the Miss Universe crown in 2010 But my biggest dream is to see Rekhaji wearing my designs. I always dreamt about designing jewellery for Rekhaji.
Moderator- Rishabh Sharma said…
तुझसे जुड़ा हर जवाब अच्छा लगता है , हर सवाल अच्छा लगता है , तुझसे जुडी हर बात भली लगती है , तुझसे जुड़ा हर ख्याल अच्छा लगता है , तेरी आँखें , तेरी बातें , तेरी जुल्फें , तेरी खुशबू और दिल को सुकून देता हर ख्याल अच्छा लगता है . छाया आपके इस सवाल का यक़ीनन यही जवाब होता , पर इस दिल ने हमेशा यही महसूस किया है की ..........

मुझको अच्छा नहीं लगता कोई हमनाम तेरा
कोई तुझसा हो तो फिर नाम भी तुझ सा रखे....
जावेद मस्ताना said…
रेखा के दौर की सभी अभिनेत्रियों ने बदलते वक़्त के साथ Direction की तरफ रुख किया , क्या आपको नहीं लगता की रेखाजी को भी Direction में अपना हाथ आजमाना चाहिए ???
Rahul Dixit said…
Dear Rishabh What is the actual meaning of beauty? Beauty which always keeps or maintains the answer of every question "HOW BEAUTIFUL YOU ARE". This is the same magic of Rekha the Diva or Rekha the ageless beauty. This is my thought how much you are agree with me?
Moderator- Rishabh Sharma said…
जावेद जी ,
बदलते वक़्त के साथ बहुत सारी अभिनेत्रियों ने बतौर निर्माता अपने करियर की दूसरी पारी की शुरुवात की , पर सफलता का स्वाद किसी -किसी ने ही चखा, अगर हम बात रेखा की करते हैं तो अभी उनकी पहली पारी ही पूरी नहीं हुई है , वो अभी लगातार बॉलीवुड में सक्रिय हैं, आज चालीस साल बाद भी वो पहली पंक्ति की नायिका हैं, ना ही वो रुकी हैं और ना ही वो थकी हैं, पर एक बार उन्होंने अपने एक interview में कहा था की वो भी एक फिल्म direct करने की ख्वाहिश रखती हैं, पर वो वक़्त कब आएगा यह तो वक़्त ही बताएगा पर शायद बहुत कम लोग जानते हैं की "आस्था" जैसी सशक्त फिल्म आधी से ज्यादा रेखा ने ही direct की थी , ख़ास तौर पर ओमपुरी और रेखा के बीच फिल्माए गए अतरंग द्रश्य क्योंकि वो उन्हें करते हुए सहज महसूस नहीं कर पा रही थी इसलिए आप यह कह सकते हैं की वो अपना हाथ Direction में भी आजमा चुकी हैं, पर इसके पहले भी फिल्मों में अपने स्टंट सीन शूट करने में वो खासी भागेदारी निभाती रही हैं , Production , Makeup Costumes Designing , Lighting , Dialogues , क्या क्या नहीं संभालती रेखा.... अब तो आप जान ही गए होंगे की सभी कामों में सिद्धहस्त रेखा कभी भी Direction की कमान संभाल सकती हैं
Moderator- Rishabh Sharma said…
Welcome Back Rahul, Yes I am agree with your beautiful thought and it also a very Nice Question BUT first we should know What is the Real Meaning of Real Beauty??
BEAUTY doesn’t mean that Hows you look?? Or what you wear , It means How Beautiful you are Inside. Not much money but How Rich you are? Not many things but an Open Being available to Million things ……….
Beauty means….. BELIEVE in YOURSELF
Beauty means…. LOVE to EVERYONE
Beauty means……. LOVE to LIFE
Beauty means…….. FEEL ALIVE
Beauty means…….. INNER STRENGTH
and She has the Courage and Strength to deal with Whatever Life brings to her and all Womanly things …….सौम्यता , सहजता , सादगी और संजीदगी ,ऐसा लगता है की जैसे ........बिंदी सिर्फ उनके माथे पर ही सुन्दर लगती है , सिन्दूर सिर्फ उन्हें ही suit करता है , साडी पहनना , खड़े होना , चलना , मुड़ना , रुकना और फिर ......पल्लू संभालना , लगता है जैसे सिर्फ वही जानती हैं सही माएनो में "औरत " होने का अर्थ
Being Woman and Being Human in true Sense, and She become the “Woman of the World” and it reflects on her Face and Really I have never seen such kind of Beauty that’s called the Real Beauty.
जावेद मस्ताना said…
रिषभ जी सबसे पहले आपको और पूरे रेखा द डीवा टीम को ईद की बहुत बहुत मुबारकबाद , आज ईद के मौके पर आप रेखा जी क्या कहना चाहेंगे??
Amit Sharma said…
Dear Rishabh, I am so happy to read your answer regading (Rahul Question) the Real meaning of Beauty, Really I appreciates your beautiful thoughts specially your very unique way to define anything, It inspired me a lot, here you explain the meaning of Beauty with so many aspects but I want to know more about Beauty as a Inner Strength. So pls explain??
Moderator- Rishabh Sharma said…
जावेद जी सिर्फ मेरी ही नहीं पूरी "रेखा डी डीवा" की टीम की तरफ से और आप सभी की तरफ से रेखा जी और फरजाना जी को तहे दिल से ईद की बहुत - बहुत मुबारकबाद , यही दुआ है अल्लाह मियां से की उनका हर दिन ईद हो और हर रात दिवाली , और रेखा जी को ख़ास तौर से सिर्फ यही कहना चाहूँगा की

जब भी देखा तेरा चाँद सा चेहरा
ईद हो या ना हो , मेरे लिए ईद हुई ..............
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Amit,
Inner Strength is the Biggest Power of Rekha’s Personality, because of her Inner Strength, she won the every battle of her life .I still remember the incident of Mukesh Aggarwal ,that was the time when People , Media, Press ,everyone was against of her, that was the most diffcult time of her life,
तब लगा की पूरी दुनिया ही उनके खिलाफ हो गयी है , Media में उनके बारे में काफी कुछ अनाप - शनाप लिखा गया , लगा जैसे हर कोई उन्हें चोट पहुँचाना चाहता था , Magazines में उनके नाम के आगे , FINISHED तक लिख दिया गया , But She bravely faced the media, people and world, Just beacase of her Inner strength and I felt that was not so easy to handle media and press. when media presurised and blamed her for all this happenings. In this condition anyone will blurt out or show his / her extream anger but I respect for her great patience while handling media in that Negative Cicumstances of life.

आज भी हमारे समाज में जब किसी के साथ ज़रा भी कुछ गलत घटित हो जाता है , People hide their faces , लोगो की बातें ही नहीं उनकी सिर्फ नज़रें ही मार डालती हैं पर उन्होंने अकेले अपने आत्मबल से इस दुनिया का डटकर सामना किया , इन्ही हालातों के बीच उन्होंने अपनी फिल्म "फूल बने अंगारे" को पूरा किया , इस तरह के मानसिक तनाव और ऐसे हालात के बीच अपनी तकलीफ , अपना दर्द छुपाकर उन्होंने Camera Face किया , I am amazed , In that Situation how she can Act?
How she can Smile?
And how she can Dance?

पिछले चार दशको में उनके खिलाफ इतनी “Yellow Journalism की गयी की यह लगने लगा था की उनकी जिन्दगी में सिर्फ दो ही रंग बचे थे, एक Black और Yellow !But that is only Rekha who replace Yellow in to Golden and Black in to Pure White just because of her Inner Strength.
ali ahmed said…
Guys.. please let us know the latest happenings with Rekhaji.. what is she doing these days.. which are her upcoming movies..
ali ahmed said…
Rishabh,
Have you ever met or seen Rekha in reality? If yes then please explain the entire scene.. I would love to read this coming from you.. Cheers.. Ali
Moderator- Rishabh Sharma said…
Dear Ali, Due to some technical reason you have to wait for your answer so very sorry fo it.
Dear Rekha is very Creative & Artistic person, when she was not doing any film then she do photoshoot for some Rare Magazine likes Filmfare, Asia Spa, and also busy in painting, Dress designing, Planting, cooking n so many interesting activities.

Rekha’s upcoming film is Punam Sinha’s Home Production “Aaj Phir Jeene ki Tammana hai” and interesting thing is that Rekha & Shatrughan Sinha last worked together in film Khoon Bhari Maang 23 years ago. After that they both making a comeback with it and from this film the Director Ramesh Talwar also comeback after 18 years his film “Sahibaan”.Except it Ram Gopal verma offered her Bhoot-2 with the same Starcast but till today it is not confirmed from Rekha’s side.
Moderator-Rishabh Sharma said…
Yessss
I meet her regularly , everyday. Infact I talk with her every minute. Please don’t laugh….. and don’t think something wrong about me. I know very well that It seems to be unbelievable ! But It’s true because she is in my soul….. and there is no need to see her in Reality BUT in reality ( According to your Question) I remember my first sight of Rekha when she was shooting a Stunt scene of Geetanjali in Ruhiyan Park Bandra, that time there was no way to reach her and I looked at her and thought this is the Gorgeous Mam Re?? She is Extremely beautyful off screen. Her Aura is beyond the description , How I forget that time?? When you can’t hold on yourslf. I will never forget that overall effect in a very seductive way, She mesmerised. Even I don’t know when shoot was over .
So dear it was my 18 years old wonderful memory.
प्राची said…
रिषभ यह बात किस हद तक सही है की रेखा की सफलता के पीछे अमिताभ का योगदान है ???
Nigam said…
Please tell me ever she (Rekha) linked up with Kiran Kumar??
pardeep said…
Rishabh is it true that Sushmita sen will be going to play Rekha in Kapil Sharma directed film Sitare??
Dear Prachi It’s Human Nature......

हमेशा सुनी सुनाई बातों का अनुसरण करना और वो भी बिना सच्चाई जाने ! और " रेखा " इस बात का सबसे बड़ा उदाहरण है की उनके बारे में बहुत सारी झूठी बातें और अफवाहें हमेशा फैलाई गयी , कभी उनकी निजी जिन्दगी को लेकर ,कभी उनकी शादियों को लेकर , तो कभी उनके करियर को लेकर लेकिन सच: कभी सामने नहीं आ पाया , रेखा की सफलता में अमिताभ का योगदान है या फिर अमिताभ की सफलता में रेखा का योगदान?? बात कुछ भी हो सकती है ! पर यह भी सच है की उन दोनों की ऑन स्क्रीन केमिस्ट्री उस दौर की उनकी सभी फिल्मों का सबसे बड़ा प्लस पॉइंट था यह सिल्वर स्क्रीन का एक ऐसा जादू था जो ख्वाबों से भी ज्यादा खूबसूरत था , खूबसूरत है और हमेशा रहेगा , पर रेखा को रेखा बनाने में अमिताभ का नहीं बल्कि उनकी बेमिसाल ख़ूबसूरती , उनकी अदभुत अभिनय क्षमता और उनका भरपूर glamour है , शायद बहुत कम लोग जानते है की रेखा अमिताभ से पहले ही एक सफल स्टार बन चुकी थी , उनकी पहली सुपरहिट सावन भादों के बाद उन्होंने एक बेचारा , रामपुर का लक्ष्मण और ना जाने कितनी हिट फ़िल्में दी , और उस वक़्त अमिताभ एक फ्लॉप एक्टर हुआ करते थे , 1974 में प्रदर्शित फिल्म " दुनिया का मेला " में पहले अमिताभ को लिया गया था पर उस वक़्त उनकी स्टार वैलयू ना होने की वजह से उनकी जगह संजय खान को लिया गया , रेखा- अमिताभ की पहली फिल्म " दो अनजाने " से पहले की फ़िल्में बरखा -बहार, गाँव हमारा शहर तुम्हारा , काली घटा, धर्मा , में रेखा उम्मीदों से भरी नज़र आई ,बस ज़रूरत थी तो अपने आप को साबित करने की और यही उन्होंने साबित कर दिखाया 1978 में प्रदर्शित
फिल्म "घर" से , अमिताभ की फिल्मों में नायिका सिर्फ नाचने -गाने तक ही सीमित हुआ करती थी ऐसे में सिर्फ रेखा ही थी जिन्होंने उन फिल्मों की सफलता में बराबर की हिस्सेदारी निभाई पर असलियत में रेखा की अभिनय क्षमता और उनकी सफलता सिर्फ वही फिल्में रही जिनमे उनके साथ अमिताभ नहीं थे और उन्ही फिल्मों ने उन्हें रेखा बनाया , जैसे खूबसूरत, उमराव जान , उत्सव, इजाज़त , घर, संसार, बसेरा, विजेता, कलयुग , मुझे इन्साफ चाहिए , खून भरी मांग , फूल बने अंगारे और भी ना जाने क्या -क्या तो ऐसे में यह बिलकुल नहीं कहा जा सकता की रेखा की सफलता में अमिताभ का योगदान है.........
Linked up????
I don’t know what it means exactly??
Linked up, Break up, Affair all are very Commercial & Artificial words BUT true love is beyond from all this.

Rekha is an Epitome of Love; she is a giver like an Ocean, who always gives loves to everyone, every person, Truly, Deeply, Madly, genuinely every time either it was Vinod Mehra, Kiran Kumar or Amitabh. She is such a Caring & wonderful Person, Extremely Nice Woman. I don’t anybody who is not fall in love with Rekha actually Rekha is not fall in love with anybody, People fall in love with Rekha. But the people and the Selfish world never Justice with her. And she believe If the relationship is not working out then the intelligent thing is to walk out with Good memories and she follows the same track…..
वो आगे बढती रही ,लोग आते गए जाते गए पर वह अपने हर रिश्ते को लेकर पूरी ईमानदार रही, उन्होंने अपना हर रिश्ते को इतनी शिद्दत से चाहा की उनका हर छोटे से छोटा रिश्ता चर्चा का विषय बन गया नहीं तो यह Indusrty तो वो जगह है जहाँ बड़े से बड़े रिश्ते टूट जाते हैं और लोगों को पता तक नहीं चलता , उन्होंने सभी से प्यार किया चाहे वो इंसान हो या जानवर !
Dear Pardeep,

Yes it is to be said that Sushmita sen will be going to play Rekha in Kapil Sharma directed film Sitare but kapil sharma also said that Sushmita is a diva and everyone would love to work with her. Apart from that, I really don't want to comment on anything." So dear you have to wait for its final Confirmation from Kapil as well as from Sushmita side.
Vibha said…
Hi Rishabh I enjoy the Photographs of Rekha's birthday celebration but I have a Question in my mind that How you define the Journey of a Woman in your own Words?
Vibha said…
Dear Rishabh I also want to the Benefit behind all this thing??
Vibha said…
Dear Rishabh this is my third and last Question from you that What you feel abut Rekha the Diva??
Moderator-Rishabh Sharma said…
Dear Vibha,
First thanks to you for appreciating the Photographs of Event 2011 and for your Questions.

Vibha I would like to tell you that “Journey of a Woman” is our Theme based of India’s Most Beautiful & most talented Actress Rekha. Our Unique Platform Rekha the Diva is just a Glimpse of her life & Career.
It’s truly dedicated to her with an aim to show the true colors of Rekha as an Actress and as a Person. It also includes her Marvelous 42 years in Indian Cinema. Our 20 years old Precious collection & our Dream website are the key points to define our theme Journey of a Real Woman called REKHA.
The Biggest benefit from this platform is that I found so many friends who adore Rekha a lot.

Dear it’s a Non- Financial Organization and we are for sharing not for selling and I strongly believe that Money is not everything in life, Personal satisfaction is much more important than anything.
It’s a Platform for all Rekha fans around the world who share their Feelings & thoughts about the Evergreen Beauty Rekha.
Vibha Just think at least once that what a Mother thinks about her Kids, that’s the same feeling I have for this. It’s like my own child, my own baby. Today this Platform Rekha the Diva is not only mine but also a part of so many people‘s daily life.
jass said…
I would like to know the list of films,she was meant to do,but other actresses did it,or films in which she replaced other actresses
Somya said…
Rishabh I enjoy both Rekha's latest interview n her awesome Photographs in Filmfare magazine but dear I m very Disappointed to read that Why she always talk about Mr. Bachchan in her every interview???
Dear Jass there is a long list of films in which Rekha replaced by other Actress, so please take a look……

1.Film Namkeen replaced by Sharmila Taggore and Opposite with Sanjeev Kumar

2.Film Golmaal replaced by Bindiya Goswami and Opposite with Amol Palekar

3.Film Chandini replaced by Sridevi and Opposite with Rishi Kapoor & Vinod Khanna

4.Film Khalnayika replaced by Anu Aggarwal and Opposite with Jitendra

5.Film Yaar Gaddar replaced by Somi Ali and Opposite with Mithun

6.Film Chunoti-“The Challenge” replaced by Tabu and Opposite with Sunny Deol

7.Film Anjaam replaced by Madhuri Dixit and Opposite with Shahrukh Khan
Dear Somya I am also surprised to read that Interview, why people always ask about Mr. Bachchan or related to him. Rekha already said that she is truly impressed by Mr. Bachchan’s personality and has a great impact on her life as an Actor and as a person.और यूँ भी कहा जा सकता है की......

अब जो बिखरे तो बिखरने की शिकायत कैसी?
खुश्क पत्तों की हवाओं से रफ़ाक़त कैसी ?
मैंने हर दौर में बस उससे मोहब्बत की है
जुर्म संगीन है अब इस में रिआयत कैसी ?
एक पत्ता भी अगर शाख से जुदा होता है
क्या कहूं दिल पे गुज़रती है क़यामत कैसी ?
जिंदगी तुझको तो लम्हों का सफर कहते थे
राह में आ गई सदियों की मुसाफत कैसी ?
Jass said…
Rekha did more films with Reena than perhaps any other actress of her time. Rekha had the better role in some of these films like Karmayogi and Maati Maangey Khoon, but despite being her junior Reena Roy had the more important role in many more films such as Nagin, Jaani Dushman, Prem Tapasya, and Asha Jyoti. What was Rekha and Reena's relationship like, both in terms of their film careers and on a personal level?(well reena is my all time fav along with rekha,don't mind my most of questions will revolve around her)
चित्रलेखा said…
एक बॉलीवुड चैनल पर आये एक प्रोग्राम से पता चला की श्रीदेवी अपनी आगामी फिल्म " English Vinglish " के लिए हिंदी सीख रही हैं, एक बार को यकीन नहीं हुआ की बॉलीवुड में इतने लम्बे से होने के बावजूद उन्हें हिंदी सीखने की ज़रूरत पड़ी, मगर यहाँ बात सिर्फ श्रीदेवी की ही नहीं बल्कि एक्ट्रेस से सांसद बनी जयाप्रदा और हेमा मालिनी की भी है, जहाँ मैंने पाया की वो पूरी तरह से शुद्ध और साफ़ हिंदी नहीं बोल पाती हैं, यूँ तो मैंने रेखा के ज्यादा Interview नहीं देखे हैं, इसलिए आपसे जानना चाहा की क्या रेखा भी इसी दायरे में आती हैं??
Dear Jass, So sorry for this delay…..

No doubt that Reena Roy was the very Talented Actress of 80’s and I like her very much.
Her Beauty, Acting skills, her dance, each and everything was Amazing. I enjoyed her wonderful performances especially in Asha, Arpan, Apnapan, Badalte Rishte, Nagin and some more….

If we talk about the Personal relationship of Rekha & Reena Roy then everybody knows very well that both were very fond to each other. Rekha always treat her as a Sister, As Chota Baccha.

There was a very Good Chemistry between them on screen as well as off screen. But dear I am not completely agree with your question because there are so many things or could be anything behind the entire scene, sometimes its depends on Story, Director, other things.... like Rekha was the first choice of Rajkumar Kohli Director of film Nagin and he offered first the role of Reena to Rekha but Rekha refused to play that role because she don’t want take any risk of a full Negative Character so she easily choose the second lead, finally that role played by Reena Roy.
In film Prem Tapasya, Rekha & Reena both shared the equivalent screen space, and other films have some other reasons…..
Actually फिल्म शुरू होने से लेकर, फिल्म के floor पर जाने तक और पूरा होने तक ,इतने बदलाव आते हैं की????? फिर सवाल , तकरार, और टकराव.....

But finally there is No Comparison between these two Superb & Talented Actress.
Moderator-Rishabh Sharma said…
चित्रलेखा जी वाकई यह अपने आप में बहुत ही हैरान कर देने वाली बात है की बॉलीवुड में 3 दशक से ज्यादा समय बिताने के बाद भी श्रीदेवी को हिंदी सीखने की ज़रूरत पड़ रही है, और यह बात सिर्फ श्रीदेवी की ही नहीं है ,जब हेमा मालिनी , जयापद्रा और अन्य दक्षिण भारतीय अभिनेत्रियाँ कई वर्षों से हिंदी फिल्मों में काम करने के बाद भी ठीक से हिंदी नहीं बोल पाती ,तब यह बात गले नहीं उतरती......
एक दक्षिण भारतीय अभिनेत्री होने के बाद एकमात्र रेखा ही एक ऐसी अभिनेत्री हैं जो हिंदी शब्दों का उच्चारण इतनी स्वाभाविकता से करती हैं की एक बार को भी नहीं लगता की वो दक्षिण भारतीय हैं और उनकी मात्रभाषा तमिल नहीं हिंदी है, बात सिर्फ तमिल और हिंदी भाषा की नहीं , बल्कि उनकी उर्दू , पंजाबी, जैसी विपरीत भाषाओँ पर भी अच्छी -खासी पकड़ है! मुज़फ्फर अली द्वारा निर्देशित फिल्म उमराव जान में रेखा ने जिस खूबसूरती से उर्दू संवादों की अदायगी की वो अपने आप में एक मिसाल बन गयी है, उमराव जान का किरदार निभाकर रेखा ने मुस्लिम संस्कृति ,उनका सलीका, और तहजीब की ऐसी नजीर पेश की थी जो आज भी लोगों के जेहन में तरो-ताजा है, इस फिल्म के अलावा राज कुमार संतोषी की फिल्म "लज्जा" में रेखा ने जिस तरह "अवधी" बोली वो सिर्फ काबिले-तारीफ़ ही नहीं बल्कि दूसरों के लिए भी चुनोतीपूर्ण है, ऐसा शायद इसलिए है क्यूंकि वो" रेखा" है!
Abir Dua said…
Rishabh, I fully enjoy this website, but have Question in my mind that Is there any Risk to make a Website on Most Controversial Actress of Bollywood- Rekha??
Moderator-Rishabh Sharma said…
Hi Abir , before giving my answer to you , I want to ask a question from you that...
How can you say that Rekha is a Controversial actress???

Dear Rekha is the Most beautiful & Iconic actress of Bollywood who gives a new meaning and dignity to Indian cinema through her milestone performances like Ghar, Basera , Jeewan Dhara, Muqaddar ka Sikandar, Khoon Bhari Maang, Phool bane Angaarey, Utsav, Ijjazat, Aastha, Khiladiyon ka Khiladi and so many more….
Abir , you know she is the only one Actress of Indian cinema who working from last 4 Decades and in this Marvelous journey she won 1 National award, 4 filmfare awards, so many other awards and She also awarded by the Padma Shri, India's fourth highest civilian honor from the Government of India for her Contribution in Indian cinema. So tell me is it possible for a Controversial person to achieve all this???
And if I talk about the risk to make this website then I would like to tell you that It's a Unique Platform for all Rekha fans around the World who share their Feelings & thoughts about Ever Gorgeous Rekha “and It’s our great Pleasure to make a website on such a wonderful Actress and a wonderful Human Called Rekha.
Anonymous said…
Dear Rishabh.. It seems that she helps young actors when they want to step into Bollywood?
Anonymous said…
Is it true She seems to be inaccessible??
LCR said…
Dear Rishab Saab,
Does Rekhaji help new comers stabilize in the industry? She did help Sri Devi a lot.. or so I have heard.. Can you please enlighten me about this..
Modeartor-Rishabh Sharma said…
Dear friend
Rekha is not only a Talented Actress but also a wonderful human being. She is very helpful & Supportive with her Co-star, Directors & New comers and also motivates them.
A long time back when Sridevi entered in Hindi films, then Rekha had taken Sri under her wings, she teaches her acting skills, Makeup sense and dressing style. Even about Hindi Diction because Rekha already taste the bad experience in the Bollywood where she was unknown about the language and People.Rekha learnt a lot from her bad experience and she never wants that another South girl face the same things that’s why she helped a lot to Sridevi.

“ Aur unse tips lene ke baad hi Sridevi No.1 Bani.Dear Rekha Not only helped sridevi, she also helped and gave tips of Success to Juhi, Raveena, Sheeba, Karishma, Mallika and many more Actresses.
Dear it’s always said that Rekha is mysterious; she is inaccessible It’s not truth, it just an image given by media & People to her. BUT yes we can say that she is almost unreachable. There is no doubt that her persona is really very high. One more thing is that she has a very tight schedule and very busy in her daily works, you know she set some rules for her own life and followed very strictly for herself but people thought that she is inaccessible.
There is one more reason of it is that she is not so much comfortable with media and press because of yellow journalism and that’s why she make a distance from media. Media always publicize Rekha’s personal tragedy of life with lots of Masala and sale the magazine with a wrong message & Image. Her pain, her broken relationship, her family problems, just was a cover story for them.
And dear According to Rekha “I have never seen anyone who has been hurt as much I have been continuously …… hurt.
Time and time, again n again and by the people, who I trusted and after all these bad experience she made a distance from media.
“Itni doori ki log unka Phone no. paane ko taras gaye.
Moderator-Rishabh Sharma said…
Dear LCR
Yes Rekhaji help new comers stabilize in the industry, she share her experience with them and motivates them towards acting.
It’s also true that Rekha helped a lot to Sri Devi in her career. She teaches her acting skills, Makeup sense and dressing style. Even about Hindi Diction. For more pls read the above answer.
चित्रलेखा said…
रिषभ मैंने आपका लैटर "नया क्या है" पढ़ा जिसमे रेखा का जिक्र आने पर आपने कहा की वो एक चमत्कार की तरह हैं , कैसे??? यह मैं आपके शब्दों में जानना चाहूंगी?
Vipul said…
Dear Moderator. recently we enjoyed a Glimpse of Rekha's Stage Performance with Vidhya Balan at Screen awards 2012 but According to you which was Rekha's Best Stage Performance ??
चित्रलेखा जी आपका बहुत शुक्रिया की आपने वह नया लैटर "नया क्या है"? को इतना ध्यान से पढ़ा की आपने उसमे से ही एक खूबसूरत सवाल निकाल लिया , शुक्रिया फिर से आपके इस खूबसूरत सवाल के लिए...

"लोगो ने सुना है की चमत्कार होते हैं , चमत्कार क्या है? क्या आपने उन्हें (रेखा ) गौर से कभी देखा है? सच में यह जानने के लिए उन्हें करीब से समझना , सुनना, जानना, और महसूस करना ज़रूरी है,
और तब सवाल तो बहुत सारे होंगे पर जवाब कहीं नहीं होगा! और तब सिर्फ एक ही बात महसूस होगी " चमत्कार " उनके जीवन से आप कोई भी वाक्या उठाकर देख लीजिये , हर बार अपने आप में चमत्कार है ,
हर सवाल के साथ सैंकड़ो बातें , अफवाहें , भ्रांतियां तो होगी नहीं मिलेगा तो संतुष्ट कर देने वाला एक सही जवाब, उनकी फिल्म सावन भादों , कहानी किस्मत की , ईमान धरम, नमक हराम, की रेखा से खूबसूरत, सिलसिला, उत्सव, खून भरी मांग की रेखा क्या यह चमत्कार नहीं???
सन 1990 में हुए अपने निजी जिन्दगी की त्रासदियों से जूझती , संघर्ष करती , रेखाओं को मात देती रेखा जब एक विजेता बनकर उभरी क्या यह चमत्कार नहीं?? बहुत सारे रहस्य को समेटे , अपनी उम्र को झुठलाती रेखा हर बार किसी नयी बात से चोंकाती रहती है , मुझे बहुत अच्छे से याद है उनका May 1993 में फ़िल्मी कलियाँ को दिया गया एक Interview , जिसमे पत्रकार ने पूछा " की उम्र के 37 वें वर्ष में कोई भी आपकी ख़ूबसूरती पर शक नहीं कर सकता पर फिर भी मैं आपसे यह जानना चाहूँगा की आज से 5 साल बाद आप खुद को कहाँ पाती है? तब रेखा ने कहा था की मेरा आकर्षण, मेरा यौवन , मेरी जवानी, आने वाले 10 वर्षों तक ऐसी ही रहेगी , तब उस पत्रकार ने कहा हमारी दुआ है की आप आने वाले 10 वर्षों तक ही नहीं बल्कि 15 वर्षों तक नायिका बनकर आती रहें, तब मैं इतना हैरान था की कोई भी अपने बारे यह दावा कैसे कर सकता है की वो 10 वर्षों के बाद भी ...जबकि आने वाले 10 सालों में क्या होगा?? यह कोई नहीं जानता ? और आज उस interview को 10 या 15 साल नहीं बल्कि 20 साल हो जायेंगे ! है ना है ये चमत्कार और लोग उनसे चमत्कार की उम्मीद भी करते हैं क्योंकि वो रेखा हैं , वह interview मेरे 22 साल पुराने संकलन में शामिल हैं बस आखिर में यही कहना चाहूँगा

Some Miracles and mysteries have absolutely No Explanations.
Dear Vipul, like you I also enjoyed Rekha’s Dance with Vidhya Balan in Screen Awards 2012 on year’s biggest hit Ohh lalla oh lalla.

Dear that was a glimpse of her Magic but I still remember her very memorable stage performance, also very close to my heart.

1.In 1997 when she performed on “Salaam-e-ishq meri Jaan and Dil Cheez kya hai at 43rd Filmfare Awards

2.In 2004 when she performed on “Pardesia yeh Sach hai Piya” with Shahrukh Khan at 50th Filmfare Awards

3. In 2006 when she performed on “ Kaisi yeh Paheli Zindgani” at Stardust Awards .
Anonymous said…
Why did she sacrifice everything for her family?
Anonymous said…
Does anyone live with her.. Or does she live alone?
Moderator-Rishabh Sharma said…
Basically by nature Rekha is very shy, introvert and private person who has mostly shield away from Media and Glamor world. She lived alone and happy…….. Because alone doesn’t mean lonely but you know she never wanted to be alone. According to Rekha “I didn’t plan it this way and I didn’t plan to live in my house alone…..it so happened. Ittefaaq se….
Whenever I think that why she live alone?? Then my heart replied …
THE HONEST ALWAYS STANDS ALONE.
Modeartor-Rishabh Sharma said…
What I say about it?? I don’t understand! Because If you really want to know why?? Then first of all you have to understand her. You have to see beyond her makeup. Before I say something you have to meet that 13 year’s old little girl named Bhanurekha and her destiny. Life is very uniquely designed for her, life taught her in very hard way at the age of 11, when her father left the home and leave a question for her and family. “Ghar kaise Chalega?? It was a huge responsibility to her, how to survive? And that was the time when she became the earning woman of her house, she taken the whole responsibility on her shoulder. She had no proper guidance; nobody was there to help her. That was the time when she really grew up. After having gone through so much pain, and when she faces the lot of bad experience of life. She became the more responsible, more patience, stronger, more confident, and better person and finally became the woman of world. But sometime one small thing or somebody ‘s one mistake can spoil other’s life, or can have profound effects on your whole life, and sometime “दूसरों की गलतियों की कीमत हमें चुकानी पड़ती है “ it’s called life , it’s called destiny .(I hope you understand what I am saying)
चित्रलेखा said…
रिषभ जी मैंने आपके सभी लैटर पढ़कर महसूस किया की आपकी सभी विषयों पर अच्छी पकड़ है , लेकिन पिछले साल के कुछ चर्चित विषयों जैसे अन्ना हजारे आन्दोलन , आमिर खान की डेल्ही बेल्ही और विद्या बालन की डर्टी पिक्चर पर आपने अभी तक कोई राय व्यक्त नहीं की क्यों ???
V.A. said…
Hi, I have a question- What was the name of award which Rekha got some yrs ago at Stardust show? That show rekha performed on Kaisi paheli zindagani too. Wasn't it Role Model of the industry? This year too she get it with the same title at stardust. Though as a fan i am happy that i got to see her but why again? The way they presented it as a surprise - then all of sudden they had harmonium with mic all ready for her to sing her songs. It wasn't a surprise i am very sure. What do you think about this ? i mean her getting the award with same title twice at same award organization? On side note - she does have a beautiful voice and she sang Agar tum na hote song really well.
चित्रलेखा जी सबसे पहले तो मैं आपको शुक्रिया अदा करना चाहूँगा मेरी तारीफ़ के लिए नहीं बल्कि आपने सभी letters को पढ़ा और समझा , लेकिन साथ ही मैं आपको बताना चाहूँगा की अन्ना हजारे जी ने अपने विचारों से और अपने अथक प्रयासों से देश में एक नयी क्रांति , एक नया इन्कलाब ला दिया है, जिसके लिए हर देशवासी और आज का हर युवा उनका आभारी है, हमारे देश को आज ऐसे ही सच्चे देशभक्त की ज़रूरत है, मेरे दिल में उनके लिए बहुत सम्मान है, जिसे मैं शब्दों में बयां नहीं कर सकता ...मेरे जहन में कई दफा ये ख्याल आया की मैं उनपर बहुत कुछ लिखूं मगर तब शायद मेरे लिखने को एक भेड़-चाल का हिस्सा माना जाता , मैं उनपर लिखूंगा और ज़रूर लिखूंगा उसका सही वक़्त आना बाकी है.. और जहाँ तक बात अभिनेता आमिर खान की फिल्म "डेल्ही बेल्ही " की करें तो आप को जानकार हैरानी होगी की यह फिल्म मैंने अभी तक नहीं देखी तो ऐसे मैं प्रतिक्रिया का सवाल ही नहीं उठता ...पर जितना मैंने इसके बारे में सुना और जाना तो सिर्फ इतना ही कहना चाहूँगा की डेल्ही बेल्ही के साथ हमारी मुलाकात "असली" आमिर खान से हुई है???
अब बात करते हैं अभिनेत्री विद्या बालन की फिल्म "डर्टी पिक्चर " के बारे में तो मैं क्या कहूँ ,इतना कुछ बोल दिया है मीडिया ने उनके बारे में , और साल के सभी अवार्ड्स जीतकर उन्होंने साबित कर दिखाया है की
वो सही मायनों में इस दौर की सबसे बेहतरीन अभिनेत्री हैं, वैसे विद्या बालन की इस शानदार सफलता पर हमारी पूरी टीम " रेखा डी डीवा" की तरफ से उन्हें शुभकामना उनके करीबी और मेरे बेहद अजीज दोस्त Photographer Vickky Idnani " के जरिये भेजी जा चुकी हैं... चित्रलेखा जी आपको ये जानकार शायद फिर से हैरानी होगी की यह फिल्म यूँ तो पिछले साल प्रदर्शित हुई थी मगर मैंने इसे देखा इसी साल है, क्यूंकि मुझे कहीं ना कहीं विद्या को ऐसे विवादस्पद किरदार मैं सोचना ही असहज लग रहा था , जबकि विद्या ने कुछ ऐसे ही लीक से हटकर किरदार फिल्म इश्किया में भी निभाया था पर सच मानिए मैंने वो फिल्म भी अभी तक नहीं देखी ... लेकिन डर्टी पिक्चर के बारे में जब मैंने सुना की विद्या के अभिनय की बहुत तारीफें आ रही हैं तब मैंने सोचा की अब मुझे जाकर देखना ही होगा , और देखने के बाद मैंने पाया की साउथ की अभिनेत्री "सिल्क स्मिता " का किरदार सिर्फ विवादस्पद ही नहीं बल्कि बहुत ही चुनौती पूर्ण था और उससे भी कहीं ज्यादा मुश्किल था सिल्क के साथ न्याय करना , जोकि विद्या ने इसे बखूबी अंजाम दिया ... मुझे इस फिल्म का वो द्रश्य याद आ रहा है जहाँ सिल्क कहती है की “फिल्म में Hero या Villain कोई भी हो मगर Vamp सिल्क ही होगी .” इसी बात से ही अंदाज़ा लगाया जा सकता है की सिल्क का किरदार इतना सहज नहीं था .सिल्क स्मिता का यह किरदार किसी भी एक्ट्रेस के लिए किसी भी बड़ी चुनोती से कम नहीं था और मैं नहीं जानता की कोई दूसरी एक्ट्रेस सिल्क के इस किरदार को उतनी सच्चाई से निभा पाती या नहीं ,सिल्क की जिस छवि को Sale किया जा रहा है , जो Negative है और हमारे समाज में Negative चीजों के लिए कोई जगह नहीं है , लेकिन जिस खूबसूरती ,संजीदगी, सच्चाई और संवेदनशीलता से विद्या ने सिल्क को जिया की सिल्क का किरदार Negative से Positive हो गया और सिल्क एक Vamp से Heroine बन गयी . और ये विध्या का ही करिश्मा है की The Dirty Picture become the beautiful Picture .इस फिल्म की शसक्त अभिवयक्ति द्वारा विध्या ने परिणीता , पा , और No one killed Jessica की विध्या को कहीं पीछे छोड़ दिया है .
Dear V.A, I think you are little bit confused about it. Dear I would like to tell you that In 2006 Rekha received “Role Model Year Award” in Stardust Award function and now she honored with “Role Model of the Film Industry” Award. Both titles are different to each other. But Dear I think it will be more meaningful if this award gives to her for Completing her Marvelous 40 years in Indian Cinema. Any way’s…. like you I am also happy for this. If we talked about the Surprise of the availability of Harmonium at the same time then dear, I agree with you, it was not a surprise, everything was planned very beautifully and No doubt she sung all the songs very well.
Oscar William said…
Dear Rishabh, first of all wish you a very Happy Holi, Dear on this colorful occasion I want to ask you a colorful question that I read somewhere that the very famous and personal photographer of Rekha, Jagdish mali, asked to Rekha to change if she was wearing Red, because Red is a very aggressive color." Dear What is your opinion about it???
Vibha said…
"अंतर्राष्टीय महिला दिवस " एक दिन नारी शक्ति के नाम ....
रिषभ जी भारतीय सिनेमा जगत में सबसे ज्यादा नारी प्रधान भूमिकाये करने का गौरव सिर्फ अभिनेत्री रेखा को हासिल है, आपके हिसाब से ऐसी कौन सी भूमिकाये हैं जिनमे वो नारी शक्ति का प्रतीक बनकर उनका प्रतिनिधित्व करती नज़र आई???
Prachi said…
Dear Moderator, recently we celebrated Women's day (8 March), so I a have a question for you, I want to know your 5 Powerful woman with reason??
Dear Oscar,
Thanks for asking such a colorful question on the festival of color of Holi.. Anyways let’s come to the point. Jagdish Mali is a very senior n very famous photographer of Bollywood and if he said that “Red color is very aggressive then he felt like that, somewhere I agree with him but not completely because .....
“Red is a positive color and also a symbol of love …we always shows our love through Red Roses and according to our Indian culture Red color used for all “Shubh Kaam” Red Bindi, Red Sindoor, and a Red Costume (Suhaag joda) for a Bride ,all are of Red color.
If we talked about Rekha when she connect with Red then I thinks it’s amazing always , infact she present Red color in very expressive way and she is the one who make popular Red color .You know people always talked about her Red nail paint, her red bindi on her forehead that gives her a super Image of a typical Indian woman and the Red Sindoor that suits her very much, even her Red Lipstick Speaks itself very well and whenever she wore red outfits in her films like Sajan Ki Saheli, Khoon Bhari Maang, Khiladiyon ka khiladi, she looks like a replica of Marlyn Munro, so dear what do you think about Red color Now???
यह बात सिर्फ रेखा के लिए ही नहीं बल्कि किसी भी नारी के लिए गौरव की बात है की रेखा ने सबसे ज्यादा औरत के विविध किरदारों को परदे पर बखूबी जिया , परदे पर किरदार निभाते हुए वो कभी भी अभिनेत्री नहीं रही,
हमेशा किरदार ही रही, अपने हर किरदार में अलग अलग परिवेश से आती औरतें और उनकी अलग अलग परिस्थितियों का सामना करती नज़र आई, और साथ ही औरत के अलग- अलग रूप , उनका जीवन, उनकी त्रासदी और उनका संघर्ष को जीवंत करती नज़र आई ,रेखा ने हर बार फिल्म की पटकथा से ऊपर उठकर अपनी बेजोड़ अभिनय प्रतिभा को सिद्ध करते हुए नारी को एक गरिमा प्रदान की फिर चाहे बात उनकी फिल्म उमराव जान के तवायफ के किरदार की हो जहाँ रेखा ने उमराव के दर्द को इतनी गहराई इतनी संवेदनशीलता से जीया की कोई भी तवायफ इतनी खूबसूरत इतनी पाक पहले कभी नहीं लगी , जीवन धारा फिल्म में उनके द्वारा निभाया गया संगीता का किरदार अपना परिवार चलाती एक आम लड़की की पूरी कहानी कहता है , फिल्म के आखिरी द्रश्य में जब वह बस कंडेक्टर से कहती हैं की " जिस घर में एक विधवा माँ और बहिन हो उस घर की बेटी शादी नहीं घर चलाने का काम करती हैं", संगीता के इस किरदार से वो खुद को एक आम लड़की के जीवन से जोडती हैं, उनकी एक और फिल्म " इजाजत " के एक द्रश्य जिसमे वो एक उपेक्षित पत्नी की भूमिका में हैं , फिल्म के एक द्रश्य में वो कहती हैं की " मैं तलाक लेने नहीं देने जा रही हूँ" उनका ऐसा कहना अपनी पहचान के लिए संघर्ष करती एक आम औरत की मजबूती बयां करता हैं, बसेरा, जुदाई, एक ही भूल, सदा सुहागन, मांग भरो सजना, खून भरी मांग, फूल बने अंगारे से लेकर आस्था, जुबैदा, लज्जा तक वो हर वर्ग की औरत का प्रतिनिधितित्व करती नज़र आई , 1991 में उदयपुर में अपनी फिल्म " फूल बने अंगारे की शूटिंग के दौरान एक पुलिस इंस्पेक्टर की भूमिका निभाते हुए उन्होंने एक पत्रकार से कहा था की " सिर्फ वर्दी पहन लेने से आप इंस्पेक्टर नहीं हो जाते उसके लिए आपको किरदार होना पड़ता है, खुद को वैसा ही महसूस करना पड़ता है, गुजरना पड़ता है उसकी मानसिक हालत से तो ठीक उसी तरह परदे पर अवास्तविक परिस्थितियों में भी वो वास्तविक रूप से नारी शक्ति का प्रतीक बन जाती हैं,
Dear Prachi the International Women's Day is celebrated in terms of respect, appreciation and love towards women. Women is the symbol of Love, Power, Scarify, dedication, Honesty etc. And I respect her in every aspect.
Really it was not so easy for me to choose only five Powerful women from a long list but… according to me the most 5 powerful Women are ..

1.Great Lata Mangeshkar:- The Crystal, Clear and a Timeless Quality of her voice that has taken your Soul beyond the Imagination. For over the 6 Decades, she became the soul of every women and also for man, She is Pride of India, she has the World’s most sweet voice . Lata Mangeshkar is like Maa Saraswati for me. “ Wo mera Swabhimaan hain, unke kadmon mein meri Duniya hai, mera jahan hai, unki awaaj jaise kai hazaar jeewan.

2.Asha Bhonsle;- I called her Asha Masi. Asha means hope, an endless hope … hope for life in each moment , every time and every step of life. A hope who convert the thing “Impossible” in to “I M Possible”. She motivates me towards for life, her beautiful voice gave me real Happiness.

3.Sonia Gandhi:- People always criticize her , blame her and never accept her because She is not Indian. I am wonder why???
Anyways I respect her for her great patience and the way she follow the Indian Culture , customs, and values and the way she presents herself as “ Desh ki Bahu” with Saari ka Pallu on her head. (Please no political view)

4.Kiran Bedi:- I salute her and respect her. As the strongest woman of India, she is truly winner of her life. “Bas Naam hi Kaafi hai”

5.Rekha :- The Eternal Diva of Bollywood , A rare blend of Beauty and talent. India’s Greata Garbo, who still sets many hearts of flutters even at her 57. She has always been exclusively being woman with her inner strength and inner self. With the passing years she has become more strong more confident and become a powerful woman. Some love Rekha and others love to hate Rekha but No one can simply ignore her when she appeared on screen or in any award function. You can’t take your eyes off her that is the Power of REKHA
Sarika said…
Dear Rishabh, Kareena's New Film " Agent Vinod " is going to be released very soon in which she performed first time a "Mujra" and she pay this as a Tribute to Rekha so can we match these two or Compare these two in terms of Mujra??
महक said…
सुजोय घोष की फिल्म " कहानी" की ख़ास स्क्रीनिंग पर रेखा ने बिना मेकअप के पहुंचकर सबको चौंका दिया , Glamour Queen रेखा Glamour हीन देखकर आपको कैसा लगा???
Moderator-Rishabh Sharma said…
Dear Sarika , before I starts my answer to you, I would like to share kareena thoughts about her Mujra in her film Agent Vinod.

"Mujra has its own charm which comes from the music and the shayari. My favorite Mujra is Rekha's Salaam-e-Ishq from Muqaddar Ka Sikander. I feel lucky that I got a chance to even try out something like that."

Anyway come to the point… Dear People call Rekha as Mujra Queen, you know Rekha is only Actress of Bollywood who did Maximum numbers of Mujra than any other actress. Rekha make all Mujra popular in both Mass & Class. I don’t know exact definition of “Mujra” but Rekha changed the complete meaning of it. There is no way to compare her to other actress in terms of Class, beauty, Ada, Grace, Elegance & Dignity which she gave in her all Mujras. Even No one can touch that standard which she did. Kareena is a good performer and she did very beautiful in her film Agent Vinod but dear Kareena is Kareena and Rekha is only REKHA.
Dear महक यह बात बिलकुल सही है की सुजोय घोष की फिल्म " कहानी" की ख़ास स्क्रीनिंग पर रेखा ने बिना मेकअप के पहुंचकर सबको चौंका दिया मगर सच कहूँ तो मुझे लगा जैसे "आस्था" की रेखा Glamour की दुनिया को तोड़ कर पूरी ताकत के साथ बाहर आ गयी हैं, क्यूंकि उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता की लोग क्या कहेंगे , क्या सोचेंगे?? वो इतनी समर्थ, इतनी सक्षम , और आत्मविश्वास से इतनी भरी हुई हैं की
She can face the reality

यहाँ तो वो सिर्फ एक स्क्रीनिंग में बिना मेकअप के पहुंची हैं, पर अगर हम उनकी फिल्म आस्था की बात करें तो जानती हो उन्होंने वो पूरी फिल्म बिना मेकअप के की थी और वह कहीं ज्यादा सहज और खूबसूरत लगी, क्यूंकि उनकी ख़ूबसूरती मेकअप नहीं है, I still remember when I was Kid and saw her Milestone film

खून भरी मांग and believe me , फिल्म के पहले भाग में दिखाई गयी रेखा जो Glamours नहीं थी , जिसके चेहरे पर निशान था , मुझे अपने दिल के ज्यादा करीब लगी,बजाय उस रेखा के जब उनका कायाकल्प हो जाता है, SometimeI think why she carry makeup?? उन्हें तो इसकी ज़रूरत नहीं!

और वैसे भी क्या फर्क पड़ता है??? मेकअप हो या ना हो ? वो रेखा हैं मेरे लिए यही मायने रखता है उनका मेकअप नहीं! जो प्यार करते हैं वो इतना नहीं सोचते या फिर आप समझ लीजिये की अगर वो खूबसूरत दिखती हैं तो मेरी रेखा हैं और अगर वो खूबसूरत नहीं दिखती हैं तो सिर्फ और सिर्फ मेरी रेखा हैं, उनका Confidence देखकर मुझे रविन्द्र नाथ टैगोर जी की कविता "गीतांजलि " की पंक्तियाँ याद आती हैं....

“Where the Mind is without fear and head is held so high….
V.A. said…
Hello , Recently Sonam Kapoor was asked a question that who is an underrated actress? and her answer was Rekha, she never really got her due. Do u agree or disagree with this statement? and why?

If i can add my opinion , then i agree with her. Rekha though immensely talented never got roles worthy of her talent. few exceptions here and there.Nowadays nobody refer to her as a talented actress whenever she is called upon stage to give awards..she is always being referred as stunning, gorgeous etc but not talented.Even Filmfare didn't give her nomination in most iconic actress poll. So yes i feel she is underrated as an actress. Would love to read your opinion too.
Vibha said…
रिषभ जी, वो ऐसी कौन सी समानताये हैं जिनकी वजह से रेखा की तुलना हमेशा से मीना कुमारी से की जाती रही है,???
Moderator-Rishabh Sharma said…
Dear V.A thanks for your Question, Dear like Sonam and You I also agree with this statement that Rekha is an underrated actress and she never got her due. I don’t know why???

Why this Industry ignores her every time. ??

Why the Jury & Awards not justified with her extreme talent?? Why??

I feel this is unfair as well as unrealistic with her that as an actress she never received that she truly deserved in terms of her capabilities and abilities.
As an actress what she has given back to society through her excellent performance. She always proved herself and noted for her versatility.

Will you tell me? Is there any actress who can play much better than Rekha, her milestone portray the raped wife in Manik Chatterjee ‘s Ghar and what she did in Umrao Jaan, nobody can !

And what about her other films like Vijeta, ijjazat, Kalyug, Jeewan Dhara, Basera, Silsila, Utsav, Phool bane Angaarey , Aastha, & Lajja. Rekha makes her all performances unforgettable and gives them Depth & Dignity, Infact her all Characters was larger than life. I also would like to tell you one strange thing about her that she is the only actress who nominated 13 times in Filmfare as the best Actress but she got only 3 Filmfare. Amazing Na??

She is the finest actress of Indian cinema but the Film industry has not justified with her unmatched Talent skills.
If we talk about that filmfare Magazine didn’t include her in most iconic poll, then I will say it doesn’t matter for her and not for her fans because over the 4 decades she is the much loved actress in Bollywood, People love to read whatever she says in her interview and sit up at night & wait for long to catch just a glimpse of her in any award function. You know it is much more than any Award or Reward, so we can’t compare her status with anyone or anything because she is BIGGER and movies & Awards got smaller.
विभा जहाँ तक बात समानताओ की है तो तो मैं सिर्फ यही कहूँगा की दोनों ही खुदा की मुकम्मल तस्वीर और अधूरी तकदीर हैं , मुकम्मल तस्वीर यानि की सिर्फ ख़ूबसूरती ही नहीं और भी बहुत कुछ.......

जिसे आप शब्दों में बयां नहीं कर सकते , आँखों में जिन्दगी की प्यास समेटे मुस्कुराहाटो के पीछे ना जाने कितने दर्द छिपाए ..एक बेहतरीन अदाकारा ,उनकी आवाज़ ,उनकी सबसे बड़ी खासियत थी , है और हमेशा रहेगी...
मीना कुमारी बेमिसाल अभिनय और ख़ूबसूरती का बेजोड़ संगम , कलात्मक , उत्कृष्ट , अतुलनीय और भी ना जाने क्या क्या.....

जहाँ एक तरफ मीना कुमारी के पूरे फ़िल्मी सफ़र में पाकीज़ा का नाम सबसे ऊपर आता है वही दूसरी और रेखा को उमराव जान के लिए याद किया जाता है , नृत्य ना आने के बावजूद मीना कुमारी की नृत्य प्रतिभा पर कभी भी सवाल नहीं उठा ! वहीँ दूसरी ओर नृत्य ना सीखने के बावजूद भी रेखा को उनके बेहतरीन नृत्य गीतों के लिए याद किया जाता है... और फिल्म जगत में सबसे ज्यादा नारी प्रधान भूमिकाओं के लिए या तो मीना कुमारी को याद किया जाता है या फिर रेखा को , पर सबसे ख़ास वजह रही असल जिन्दगी की समानताओ को लेकर मीना कुमारी बहुत ही संवेदनशील महिला थी उनकी जिन्दगी में जो भी आया वो सभी पर अपना प्यार लुटाती रही ओर प्यार के नाम पर धोखा खाती रहीं , लोग उन्हें लूटते रहे ओर वो लुटती रही... जिन्दगी में लोग आते रहे ओर जाते रहे पर कोई भी उनके लिए रुका नहीं , वक़्त के साथ नाम बदलते रहे ओर चेहरे भी....बस नहीं बदला तो मीना कुमारी की जिन्दगी का चेहरा ! वो हर चेहरे में अपना वजूद तलाशती रहीं ओर उनकी आँखें ढूंढ़ती रहीं हर आँख में अपने लिए प्यार ओर सच्चाई लेकिन आखिरी सांस तक ना तो उन्हें प्यार मिला और नाही प्यार करने वाला...जिन्दगी से मिले इस दर्द और तन्हाई ने मीना कुमारी को शराब में डुबो दिया और यह सबसे बड़ी असमानता है मीना कुमारी और रेखा के बीच , रेखा ने खुद को मीना कुमारी नहीं बनने दिया , जिन्दगी में हमेशा प्यार पाने को तरसती रेखा को कभी प्यार हासिल नहीं हुआ, अपनी निजी जिन्दगी की त्रासदियों से जूझती रेखा को उनके अपनों ने ही तन्हा कर दिया लेकिन रेखा ने अपनी जिन्दगी में आये हर दर्द और तूफ़ान का हिम्मत से सामना किया और हवाओं का रुख बदल दिया और रेखा ने बदल दिया रेखाओं का फैसला! ऐसे हालात में जब लोग बुरी तरह टूट कर बिखर जाते हैं तो लोग खुद को नशे में डुबो देते हैं या फिर आत्महत्या कर लेते हैं और जो लोग इस सच को पीकर जिन्दा रह जाते हैं वो पागल हो जाते हैं! सिर्फ चंद लोग ही इस "अग्नि परीक्षा "को पार कर पाते हैं , लेकिन इस आग से गुजरने के बाद वो "पत्थर " बन जाते हैं, पर इस दर्द ने एक नयी रेखा को जन्म दिया जो इस आग में तपकर सोना बन गयी , जिसकी चमक से आज तक सिनेमा जगत चमचमा रहा है , रेखा ने अपनी जिन्दगी में आये दर्द और खालीपन से कुंठित होने के बजाय खुद को हर लम्हा तराशना शुरू कर दिया और जीने का मस्त अंदाज़ अपना लिया ...
V.A. said…
Thanks Rishabh for your reply. I didn't know that about 13 FF nominations..Are these for best actress alone or actress + supp. actress combined??

Okay, now if i may continue this discussion- I feel there are couple of reasons of her not getting proper due. One is many a times her acting reminds of Amitabh bachchan(specially in her late 80s or 90s movies), which is not a good thing for any actor. Another one is I think Rekha 's sense of picking the script is also not v great . She signed some atrocious movies in 90s like all those revenge movies.And recently BRRB & KKHZ which really did hurt her career. One major reason i feel is that though she did many performance oriented movies in 80s but either those are not big hits or most of them are with Jeetendra(all those south style movies) which don't have much audience today. So current generation is not much aware of her good work too. Somewhere in late 80s, i feel that her Beautiful glamourous persona somehow suppressed the actor within her, which is sad.
मधुशंकर व्यास said…
अभी हाल ही में हुए मिर्ची म्यूजिक पुरष्कार समारोह में सदाबहार रेखा ने ना सिर्फ खय्याम साहब को "लाइफ टाइम" पुरष्कार से सम्मानित किया बल्कि अपने सधे हुए सुरों से सभी को मंत्रमुग्ध भी किया …ऐसे में दो महान हस्तियों को एक साथ एक ही मंच पर देखकर आपको कैसा लगा , आपकी प्रतिक्रिया जानना चाहूँगा .
Dear V.A again Thanks to you for your wonderful question. But dear it was too long, so it will be nice if you asked one question at one time because I am little confused that where I can start?

Anyway lets starts from your first question then I would like to tell you that Rekha receive 7 times nomination as a Best actress and 6 times nomination as a supporting Actress in Filmfare Awards.

Come to the second question then I am agreeing with you that in late 80-90’s movies her acting reminds of Amitabh Bachchan. I think that was the time when she was highly impressed by Mr Bachchan personality and she grab all the things from his personality or you can say that was her true love for Mr Bachchan Which is reflecting in her character, her style , her acting , dialogue delivery, mannerism, even in her expression everything recall about Mr bachchan or I felt it comes from her unconscious part but this is not good for any actress/actor because it became minus point of her career.

Rekha remembers only for those performances where she was Rekha. Rekha as actress not over shaded by Mr Bachchan , if u see her milestone performances like Umrao Jaan, Ghar, Silsila, Utsav, Ijjazat, Basera,Jeewan Dhara, Kalyug, Vijeta, Khoon Bhari Maang and Phool Bane Angaarey then you can find the Real Rekha with her own expression with her own talent in reel Rekha.
.
Now the third one, again I am agreeing with your thought that her sense of picking the script was not so good and dear like me, like you everybody confused that why she signed such films and whenever I think about Rekha I feel her self-confidence become over confidence for her career, because she thought, she has the enough courage & strength to deal with whatever comes in her way and result some meaningless & bogus films.

Rekha typed herself in 2 categories one is Angry young woman image in which she did many revenge films & second is South style Image in which she did most of films with Jitendra,
but if we talked about her Angry young woman Image then you find her Zabardust Adakaari in “Insaaf ki Aawaz, Mujhe Insaaf Chahiye, Jaal & Khoon Bhari Maang and If we talk about her second the south style Image, then you can find out her best performance in Sada Suhagan, Ek hi Bhool, Judaai,
Maang Bharo Sajna, (which is my personal favourite) and she also got nomination for best actress for her film Judaai. But Bach Ke Rehna Re Baba , Kudiyon Ka Hai Zamana , Kaamasutra, & Mother-98 really hurt her career. She was looking misfit in to all these movies and not fulfill others expectations.

Finally come to your last Question that current generation is not aware about her good work, at this point I am not agree with you because the current generation recognized her as Umrao Jaan. People love to watch her talent in “ Khoon Bhari Maang and she did “Zubeida, Khiladiyon Ka Khiladi , lajja & Yatra for current generation but you can say from a very long time she didn’t give any good film or good role that’s why her beautiful persona suppressed the great actress within her, which really really very sad.
मधुशंकर जी सबसे पहले तो मैं आपका इस प्रश्न के लिए शुक्रिया अदा करना चाहूँगा .... और आपको बताना चाहूँगा की
जब 55 वें फिल्मफेयर समारोह में खय्याम साहब को लाइफ टाइम पुरष्कार से नवाज़ा गया था तब उन्होंने अपनी ख़ुशी और अपने उदगार को अभिनेत्री रेखा के सम्मान में कुछ यूँ बयां किया था … "रेखा जी उमराव जान में अगर आप ना होती तो उमराव जान "उमराव" ना होती . उमराव जान ने बाकायदा शास्त्रीय संगीत सीखा , नृत्य सीखा उसमे महारत हासिल की , शायरी की और वो इतनी खूबसूरत थी की पूरे अवध में धूम मच गयी , मैं तहे दिल से शुक्रगुजार हूँ रेखा जी का ....
जिसे सुन रेखा भावुक हो गयी थी और उनकी आँखों से आंसू छलक पड़े थे की खय्याम साहब जैसी अज़ीम व्यक्ति ने उन्हें इतनी तवज्जो दी, इतनी इज्ज़त दी , ये हैं हमारे खय्याम साहब , हिंदुस्तान के एक बेहतरीन फनकार जिन्होंने एक से बढ़कर एक पुरकशिश और खूबसूरत धुनें संगीत प्रेमियों को दी ,जैसे कभी -कभी , आहिस्ता -आहिस्ता , नूरी , और उमराव जान , इतने बड़े फनकार को इतना साधारण पाकर मैं खुद श्रद्धा से भर गया और मुझे लग रहा था रेखा जो की खुद एक बेहतरीन इंसान हैं उनको ज़रूर इसके एवज में उनका आभार प्रकट करना चाहिए और मैं जानता था की वो ऐसा ज़रूर करेंगी और आखिरकार वो दिन आ ही गया जब रेडियो मिर्ची संगीत समारोह में रेखा ने खय्याम साहब को लाइफ टाइम अवार्ड देने जा पहुंची और जब रेखा ने कहा …. प्यारे दोस्तों ये मेरी खुशनसीबी है की आप लोगों ने मुझे यहाँ आमंत्रित किया , खय्याम साहब को यह अवार्ड देने के लिए " अगर खय्याम साहब नहीं होते तो रेखा नहीं होती क्यूंकि आर्टिस्ट तो मैं बचपन से ही थी मगर मुझे आपने एक वजूद दिया , एक नाम दिया , मैं कहीं भी जाती हूँ , कोई भी मुझे देखता है , रेखा बाद में आता , पहले उमराव आता है " वो एक बेहद हसीन पल था हम सभी के लिए , पूरी दुनिया के लिए जब दो महान हस्तियाँ एक दुसरे को अपनी अपनी सफलता का श्रेय दे रही थी और जब रेखा ने उमराव फिल्म की मशहूर ग़ज़ल "यह क्या जगह है दोस्तों का वो अंश गाया की ....
"बुला रहा हैं कौन मुझको चिलमनो के उस तरफ से
मेरे लिए भी क्या कोई उदास बेक़रार है ...
ये क्या जगह है दोस्तों....

ऐसा लगा जैसे सब कुछ थम गया हो !
vaibhavi said…
hii
aj news main aaya ki Rekha ji ko politics join karne ke liye kaha jayega kya wo aisa karengi agar wo rajniti main aayengi to kya ye sahi hoga? ap kya kehna chahoge is baare main?
V.A. said…
What is your reaction to all the news today that Rekha has got Presidential nomination to be Rajya Sabha MP? Do u think will she accept this offer? I don't think so..she doesn't look like a person who can be in politics.What are your thoughts?
वैभवी,
यह अपने आप में बेहद ख़ुशी , गर्व और सम्मान की बात है की भारत सरकार द्वारा राज्य सभा के इस उच्च पद के लिए अभिनेत्री रेखा को नामांकित किया गया है क्यूंकि रेखा बहुत ही समझदार , सुलझी हुई, पारदर्शी , जुझारू , और मजबूत इरादों वाली एक जिम्मेदार महिला हैं, अपने निजी जीवन और फ़िल्मी सफ़र में आये तमाम उतार- चढ़ाव के बावजूद बॉलीवुड में चार दशक से भी ज्यादा समय से टिकी रहने वाली रेखा के पास जीवन का अनुभव है, आज वो जिस मुकाम पर है वो ना सिर्फ उनके लिए ख़ुशी की बात है बल्कि समस्त नारी जाति के लिए भी सम्मान की बात है, खैर यदि बात उनके इस पद को ग्रहण करने की है तो उन्हें ऐसा करना चाहिए या नहीं यह उनका खुद का फैसला होना चाहिए ना की किसी दवाब में आकर ....
पर जहाँ तक रेखा के व्यक्तित्व का सवाल है तो आज राजनीति की जो भाषा और परिभाषा है वह रेखा के व्यक्तित्व से मेल नहीं खाती , क्यूंकि वहां रेखा जैसी संवेदनशील , प्रेम और भावनाओ से भरी हुई महिला पर कहीं भी सटीक नहीं बैठती !! उम्मीद है वो ऐसा नहीं करेंगी क्यूंकि एक अभिनेत्री के तौर पर वो अभी चूकी नहीं है , अभी भी वह खूबसूरत और आकर्षण से भरपूर हैं, और आज भी उनके तरकश में कई तीर हैं बाकी हैं , उनके प्रशंशक आज भी उनसे एक अदद भूमिका की उम्मीद रखते हैं, और हमें भी आशा है की वह अपने चाहने वालों को निराश नहीं करेंगी....
Dear V. A
I am so glad to know that Rekha has got Presidential nomination to be a Member of Rajya Sabha.

Really it’s a moment of proud for me and for all Rekha fans that she got this honor from Indian Govt. Infact its time to celebrate her success , If I talk about her decision of her on this matter then can’t say exactly she will accept it or not? but personally I feel she will not accept this offer because politics not suits on Rekha’s personality , she is not that kind of person who can be in politics because Rekha is very Shy, cool , calm, introvert and extremely nice person. And I strongly believe that God created her for Indian cinema. People still love her and want to see her in some good & challenging roles and expect a lot from her. As an actress her charm, her magic is not over or you can say that Picture abhi baaki hai…..
Vibha said…
Dear Moderator after so much
Ho- Halla finally Rekha became the Member of Rajyasabha. so how do you feel now???
Prachi said…
रिषभ , अभी हाल ही में यह चर्चा ज़ोरों पर है की मशहूर फिल्मकार मुज़फ्फर अली अभिनेत्री रेखा के साथ अपनी बहुचर्चित फिल्म उमराव जान 2 बनाने जा रहे हैं , क्या यह सही है?? और क्या आपको लगता है की यह दोनों दिग्गज 31 साल बाद क्या वही इतिहास और सफलता दोहरा पाएंगे??
Preti said…
Dear Rishabh I want to know for how long Rekha is doing yoga??
Yes Dear Vibha after so mach Ho -Halla , Finally Rekha took Oath as the Member of Rajyasabha and like others I am also glad that after getting India’s prestigious award Padamshri, Indian Govt nominate Rekha for the Rajya Sabha. I m still worried about her because I feel it was her wrong decision to enter in the Rajya sabha.
प्राची जी मशहूर फिल्मकार मज़फ्फर अली द्वारा निर्देशित फिल्म उमराव जान प्रसिद्ध लेखक "मिर्ज़ा हदी रुसवा" के बहुचर्चित उपन्यास "उमराव जान अदा" पर आधारित है, जिसमे अमीरन के उमराव जान बनने तक के सफ़र को दर्शाया गया था, मुज़फ्फर अली की यह फिल्म भारतीय सिनेमा की उन चंद फिल्मों में से एक है जो भारतीय सिनेमा का गौरव और धरोवर है, इस फिल्म के मुख्य पात्र को जीवंत कर देने वाली रेखा ने उमराव जान के किरदार को इस तरह से जिया की उमराव हमेशा के लिए अमर हो गयी.,उमराव जान का जीवन, उसका दर्द , उसकी त्रासदी , उसकी ख़ूबसूरती को रेखा ने इतनी संजीदगी , ख़ूबसूरती और नफासत के साथ जिया की रेखा उमराव की आत्मा बन गयी.. एक तवायफ जिसे समाज में हमेशा उपेक्षा की द्रष्टि से देखा गया है वो इतनी खूबसूरत, इतनी पाक पहले कभी नहीं लगी , रेखा ने उमराव जान के किरदार को ना सिर्फ जिन्दगी दी बल्कि एक इतिहास रच दिया , आज रेखा जिस भी मुकाम पर पहुँच गयी हैं उमराव उनकी परछाई बन गयी हैं, उमराव जान का जिक्र आते ही लोगों के दिलों- दिमाग और जेहन में सिर्फ रेखा का ही ख्याल आता है और आज भी मुज़फ्फर अली को सिर्फ उनकी फिल्म उमराव जान के लिए याद किया जाता है, इस फिल्म में की गयी बेहतरीन अदायगी से रेखा ने ना सिर्फ सबका दिल जीता बल्कि अपनी इस फिल्म के लिए रेखा को सर्वश्रेस्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरष्कार मिला , रेखा के साथ -साथ मशहूर संगीतकार खय्याम और अपनी आवाज का जादू बिखेरने वाली आशा जी को भी इस फिल्म के लिए राष्ट्रीय पुरष्कार से सम्मानित किया गया,

जैसा की आपने पूछा है की " मशहूर फिल्मकार मुज़फ्फर अली अभिनेत्री रेखा के साथ अपनी बहुचर्चित फिल्म उमराव जान 2 बनाने जा रहे हैं ,और क्या यह दोनों दिग्गज 31 साल बाद क्या वही इतिहास और सफलता दोहरा पाएंगे??तो मैं सिर्फ यही कहूँगा की मुज़फ्फर अली अपनी इस विख्यात फिल्म का सिक्वल बनाये या फिर से "उमराव जान "लेकिन यह मुमकिन ही की वो इतिहास फिर से बन पायेगा ,क्यूंकि उमराव सिर्फ एक है कोई दूसरी नहीं, उमराव जान एक कालजयी सिनेमा है, एक चमत्कार है और चमत्कार बार- बार नहीं होते मगर हाँ मुज़फ्फर अली और रेखा मिलकर किसी नए विषय और नयी रचनात्मकता के साथ बार फिर से एक नया इतिहास रच सकते हैं, जहाँ तक सवाल रेखा का है तो आज भी सिर्फ और सिर्फ रेखा ही उमराव बन सकती हैं, पर फिर भी उन्हें यह फिल्म नहीं करनी चाहिए , खैर इस बात की पुष्टि के लिए हमने सीधे बात फिल्म के निर्देशक मुज़फ्फर अली से की तो उन्होंने बताया .....

"देखिये अभी इसकी कहानी पर काम चल रहा है, यह उमराव जान का सिक्वल होगा या फिर से उमराव जान आपके सामने होगी , यह अभी तय नहीं हो पाया है, पर हाँ इसमें इस बार रेखा नहीं होंगी.बाकी क्या क्या
Final होता है वो मैं आपको कुछ दिनों के बाद बताऊंगा ....
Dear Preeti In mid 1979 she started yoga, balanced diet and meditation.she transformed herself like a miracle, infact in 1982 she did an audio called “Mind Body & Temple.
Chaya said…
रिषभ जी क्या आप जानते हैं की अभी हाल ही में NDTV द्वारा किये गए एक सर्वे में रेखा को आंठ्वे पायदान पर रखा गया , और इससे पहले फिल्मफेयर पत्रिका ने भी उन्हें ( मोस्ट स्टाइल आईकन अभिनेत्री ) की श्रेणी में नंबर 2 पर रखा , क्या आप इससे सहमत हैं???
छाया आपके प्रश्न का उत्तर देने से पहले मैं खुद आपसे यह प्रश्न पूछना चाहूँगा की क्या आप खुद अपने प्रश्न से सहमत है? क्या आप ऐसा मानती हैं की आज रेखा जिस उंचाई पर हैं वहां उन्हें किसी चैनल या किसी पत्रिका के द्वारा किये गए सर्वे की आवश्यकता है??? एक सबसे ख़ास बात यह है की इस तरह के सर्वे के नतीजे ना तो किसी अभिनेता/अभिनेत्री की लोकप्रियता का आधार बन सकते हैं और ना ही ये शत -प्रतिशत सही होते हैं, और देखा जाये तो यह कोई कसौटी भी नहीं है जिस पर आप किसी की प्रतिभा या सौंदर्य का आकलन कर सकते हैं , बल्कि ऐसा करना कला और कलाकार दोनों का ही अपमान है क्यूंकि एक सच्चे कलाकार को कभी भी किसी सर्वे की ज़रूरत नहीं होती,अगर हम देखें तो पहले के दौर के अभिनेता/अभिनेत्री की प्रतिभा , लोकप्रियता और ख़ूबसूरती को कभी भी किसी सर्वे से नहीं आँका गया, और जहाँ तक बात रेखा की है तो वह इस तरह के सर्वे और नंबरों के खेल से बहुत ही आगे निकल चुकी हैं ,आज वह जिस उंचाई पर हैं वहां नंबर खत्म हो जाते हैं, रेखा की बेमिसाल ख़ूबसूरती को , उनकी बेजोड़ अदाकारी को और उनके रुतबे को किसी भी चैनल, किसी पत्रिका और किसी भी प्रकार के सर्वे की आवश्यकता नहीं है क्यूंकि इस तरह के सर्वे के नतीजो , पायदान और नंबरों का असर ना तो रेखा पर होता है और ना ही रेखा के चाहने वालों पर ....
इस तरह की ख़बरें, या सर्वे उन चैनल और पत्रिकाओं की रोज़ी-रोटी होती है , ये उनका काम है इसलिए उन्हें उनका काम करने दीजिये , अक्सर होने वाले ऐसे सर्वे और पत्रिकाएँ शायद यह भूल जाते हैं की रेखा ने पिछले चार दशकों में ना सिर्फ अपने प्रशंशकों के दिलों में ख़ास जगह बनायीं बल्कि इस पुरुष प्रधान सिनेमा जगत में अपना एक अलग ऐसा मुकाम बनाया है , जो किसी पहचान का मोहताज़ नहीं!!
Zubin said…
Dear Rishabh, 6 months passed of this Year and in these Months Rekha appears 14 times publicly but the Point is that most of time she appeared with her Trademark Kanjeewaram saree, I don't know why she is wear Saree every time???
Rekha is the most fascinating Star of Bollywood who always set a trend in the world of Makeup & fashion that’s why she called a Trendsetter & Maha style Icon of the Cine Industry .

She is the one who define makeup and fashion every time in her own way . Rekha is the only Actress in Bollywood who doesn't need any designers.she is a brand of her own and her sense of style,Grace and Dignity ,infact you can say Only Rekha knows how to wrap herself in a 6 yard saree & carry elegantly.

I think Rekha is always held as an example of a Woman in true sense and became the inspiration for new Generation

Dear if you noticed that in the all recent award function not only Rekha, other Actress like Vidhya, Priyanka, Kareena, Deepika, Sonakshi, all seen in a Saree.

Dear Zubin, I can understand your feelings.. we also want to see her in western outfits, in some different Wardrobe.
Sandhya said…
Dear Rishabh As I mentioned in my feed back that Through daily Newspaper Punjab Kesri, I connect to this wonderful website, Really I enjoy it a lot, but I have a Question in my mind that why you named it “Rekha the Diva” Is there any Specific reason behind it???
Wajid Khan said…
मेरे अजीज़ रिषभ , आखिरकार वो दिन आ ही गया जब पंजाब केसरी जैसे चर्चित अखबार ने आपको अदाकारा रेखा का सबसे बड़ा Fan घोषित कर दिया , इस जग जाहिर बात से आपका नाम उनके सबसे बड़े प्रशंशक के रूप में दर्ज हो गया है, इस खुशी के मौके पर आपकी क्या राय है??
Dear Sandhay , Me and my team Welcome you on this platform n thanks for your question.

Dear its a nice trendy things to say Diva to every actress now days. But sometime I think how many among us truly understand the meaning of the term DIVA... Or do we understand? What it mean in true sense?

The basic sense of the term Diva is “ Goddess” and Rekha is the one and only who captivated our imagination through the years and years; She is the epitome of Glamor , Style, Elegance, Grace, Ada & Beauty. She define & re-define fashion every time and set the trends for others.

Looking sexy , doesn’t mean always sexy for me , it belongs to your appeal and your presence like Beautiful Rekha.

Do you know , the term Diva in India firstly was coined for Rekha and she is the one who received this Honor by International Indian Film Academy Award (IIFA) in 2001) and again she win the forever Diva trophy by ZEE Cine in 2007.

In fact People call her the Original Diva of Bollwood. She is the Ultimate Diva in real sense or you can say She is the Diva of all Divas.
वाजिद भाई सबसे पहले तो आपको माहे रमजान की पुर खुलूस मुबारकबाद , और साथ ही बहुत बहुत शुक्रिया आपके प्यार और दुआओं के लिए ..जहाँ तक बात रेखा के सबसे बड़े fan का नाम दर्ज होने की है, तो मैं आपको बताना चाहूँगा की मैं अपने आपको उनका सबसे बड़ा fan नहीं मानता क्यूंकि मोहब्बत को कभी भी तोला या मापा नहीं जा सकता , इस दुनिया में ऐसे लाखों बहुत सारे लोग हैं जो रेखा से बेपनाह मोहब्बत करते हैं, हाँ मगर इस बात की मुझे बेहद ख़ुशी है की मुझे उनके नाम से ये पहचान मिली , और ये जो सफलता है, यह तो सिर्फ एक आग़ाज़ है या फिर यूं कह लीजिये की .....

बुलंदियों पर पहुंचाएगा मेरा हुनर एक दिन मुझको
मुझको पाँव के नीचे सीढियां अच्छी नहीं लगती .........................
Mehak said…
Dear Rishabh, recently Raveena tandon said in her interview that What has Rekha done to be in the Rajya Sabha? So whats your views on this ??
Dear Mehak,

First of all before saying something on any topic, every one should know about it completely, same here Raveena needs an education on how nomination to Rajya Sabha works. She should understand that Rekha is not an Elected member but Nominated and the nominated members are supposed to be those who have been selected for their Contribution to the fields of Arts, Sports, Literature, or Science , And I think Raveena had forgotten that Rekha is not the first lady from film Industry who nominated for Rajya Sabha.

And if we talk about Rekha’s nomination , she received this honor for her excellent work which she doing from last 42 years. Being a successful and finest actress of Indian cinema she honored with so many awards including National award & Padamshri.

So Raveena has no right to talk like that about the Respected actress Rekha.I am wondering why she is giving such kind of statements??? and I would like to advice her that she should learn some manners from today’s generation Actress like Vidhya, Sonakshi, Shilpa , Priyanka, Kangana and so many more...

After go through that Article , One thing is very cleared that at some point Raveena have some personal issues with Rekha .I just can say that...

It’s nothing except to need attention in public, or just funda of Cheap publicity.
Navneet Chabra said…
रिषभ मैं आपसे यह जानना चाहता हूँ की आपने अपने इस प्रोजेक्ट के लिए रेखा को ही क्यों चुना??
Preti said…
Rishabh, Everybody says that Rekha does her own makeup, Is it true??
नवनीत जी आपका यह सवाल , वो सवाल है जो मुझसे एक बार नहीं , जाने कितनी ही बार पूछा गया है, एक आम आदमी से लेकर, मीडिया, प्रेस , रेखाजी के Director (स्वर्गीय राज़ कँवर जी- सदियाँ ) उनके सह-अभिनेता शाटगन (शत्रुघ्न सिन्हा ) तक हर बार यही सवाल... और मेरा जवाब हर बार यही था - क्या आपको नहीं लगता की आज रेखा ही अपने आप में हर सवाल का जवाब हैं? ऐसे में फिर सवाल क्यूँ??
पिछले 42 सालों से लगातार बॉलीवुड के मैदान में टिकी रहने वाली एकमात्र विजेता, अभिनय ,सौंदर्य और कला का बेजोड़ संगम , पिछले 42 सालों में सबसे ज्यादा जिस पर लिखा गया वो रेखा ही हैं,

भारतीय सिनेमा की सबसे लोकप्रिय , चहेती अभिनेत्री , रहस्मयी व्यक्तित्व और चमत्कारों की स्वामिनी रेखा जो आज चार दशक बीत जाने के बाद भी पार्श्वभूमि में नहीं गयी बल्कि उसी शान ओ शौकत से टिकी हुई हैं

सिनेप्रेमियों को उमराव जान, मुकद्दर का सिकंदर, घर, उत्सव, इजाजत , कलयुग, विजेता, सिलसिला, बसेरा, जीवन धारा, खून भरी मांग, जैसी ना जाने कितनी यादगार फ़िल्में देने वाली रेखा आज जिस मुकाम पर हैं वहां तक पहुंचना तो दूर सोचना भी किसी के वश की बात नहीं , शायद चाँद पर पहुंचना आसान है,मगर रेखा तक पहुंचना नामुमकिन
और इन सब से पहले वो एक बेहतरीन इंसान हैं और ऐसे में रेखा जैसी महान अभिनेत्री और दिलचस्प व्यक्तित्व पर काम करना सबसे बड़ी उपलब्धि ही नहीं गौरव की बात है!
Dear Preti, Yes its true that Rekha does her on Make up since 1980’s Don’t Surprise..

After completing a Makeup course from London she began to favor the Perfect Picture kind of makeup. Perfect Lip liner, Heavy Mascara, Glossy lips and set the trends for others transformation with lots of Creation. She discovered makeup as a means of Makeover.
Mehak said…
Dear Rishabh, I m soo Happy to watch the event 2012 segment, Really it marvelous and I wish to be a part of such wonderful evening, anyway would like to know your feelings after such Big event on Diva Rekha's Birthday??
Dear Mehak, I m extremely sorry to you, that have to wait for your answer, anyway I would like to say A Big thanks to you for appreciating our efforts.

Yes it’s a wonderful experience to do such event on Diva Birthday,
Mehak, Personally I believe that “The man who wins is the one who thinks he can……..
And you know successful people, don’t do different things, they do things differently, so I believe in dreams.

In the beginning or the end, I always find there is and not end,
There is one thing believe, to believe … is to know, that every day is a New beginning , it is to trust that miracles happens, and dreams really come true.
चित्रलेखा said…
एक बार फिर से रेखा चर्चा में है की वो छोटे परदे पर एक चॉकलेट के विज्ञापन, डांस शो "नच बलिये " से अवतरित होने जा रही हैं , सच में यह ख़बरें सुनने में बहुत अच्छी लग रही हैं मगर इन सब बातों के बारे में आपकी राय जानना चाहती हूँ ??
NEHA K said…
Namastey, I desire to read Rekhaji's book - Rekha's Mind Body and Temple. I have tried to search everywhere but cannot find it. Please, advise from where I can buy this book.Kind regards, Neha
हाँ जी चित्रलेखा , कैसी हैं आप?? मुझे लगता है की हमेशा चमत्कारों और सरप्राइज से चौंकाने वाली आपकी अपनी एवरग्रीन रेखा ने लगता है, ठान लिया है की वो अब वो सब कुछ करेंगी , जिसको वो एक अरसे से ना कहती आई हैं, फिर चाहे बात एड फिल्म की हो या किसी टीवी शो की , या फिर कुछ और क्यूंकि वो जानती हैं की उनके fans उनसे आज भी चमत्कार की उम्मीद करते हैं, उनकी एक झलक के लाखों नहीं आज भी करोडो दीवाने हैं, अब धीरे धीरे आखिरकार उन्होंने मन बना ही लिया है की वो सब करेंगी जो उनसे उनके fans उम्मीद रखते हैं , टीवी शो, ramp शो, cameo , और भी ना जाने क्या क्या ?? तो फिर हो जाइये तैयार हर बार किसी नए सरप्राइज के लिए..
Dear Neha welcome on the site and thanks for your Question, As all of us knows very well that Diva Rekha’s looks and style are copied throughout India and she even has her own book on yoga, Meditation and exercises called `Rekha`s “Mind and Body Temple” that revealed the secret of Rekha’s transformation from an ugly duckling to a beautiful swan. It was published in 1983 so very hard to find now on Book stores but am so happy to know that you have desire to read it.
चित्रलेखा said…
Dear रिषभ , एक लम्बे अन्तराल के बाद , Snicker चॉकलेट से विज्ञापन के मैदान में धमाकेदार एंट्री करने वाली रेखा का यह कदम आपको कैसा लगा ?? और राज्यसभा में अपने पद की गरिमा को देखते हुए क्या उन्हें यह विज्ञापन करना चाहिए था ???
शुक्रिया चित्रलेखा जी इतने बढ़िया सवाल के लिए, वाकई में यह अपने आप में बहुत अविश्वनीय है की हमेशा से टीवी शो, रैंप शो और एड फिल्मों से दूर रहने वाली वाली रेखा ने आखिर कैसे एड करना स्वीकार किया ?? पर आप शायद भूल रही हैं की यह पहली बार नहीं है, 80 के दशक में रेखा मशहूर ब्रांड Lakme, Lux, और Gold Spot के लिए Modeling कर चुकी हैं, पर तक़रीबन 2 दशक से भी ज्यादा समय से वो इस सबसे बचती रही,पर उन्होंने कभी भी यह नहीं कहा की वो यह सब करना नहीं चाहती , वो हमेशा यही कहती आई हैं की अच्छा ऑफर आने पर वो ज़रूर करेंगी , और अगर हम इस एड की बात करें तो मैं खुद उन्हें देखकर स्तब्ध रह गया , उन्हें अचानक इस तरह देखना और हर रोज़ देखना , सुनना बहुत ही आनंददायक अनुभूति है, इस विज्ञापन को बनाने वाले इमितियाज़ अली एक काबिल निर्देशक हैं, और उन्होंने वाकई बहुत अच्छी एड फिल्म बनायीं है, उनके इस एड को हर तरफ से ज़बरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है, और जहाँ बात उनके एक राज्य सभा के सदस्य होने और एड को करने की है तो चित्रलेखा जी वो एक सांसद होने के साथ साथ एक बेहतरीन अभिनेत्री भी हैं, और आज भी उनके चाहने की तादाद कम नहीं हुई है, तो इस नाते उन्हें अपने प्रशंसको के लिए कुछ नया और रोचक करना भी चाहिए .
Namit said…
After enjoying the Wonderful Award function of Screen , am waiting to see the Filmfare awards, so pls confirm when it is telecast??
Dear Namit The Filmfare Awards 2013 will be telecast on Sony TV on Sunday 17th February at 7:30 pm (Red Carpet) and 8:00pm (Main Event)so wait....
Navneet Chabra said…
चित्रलेखा जी को दिए गए खूबसूरत जवाब के बाद मैं आपसे यह जानना चाहूँगा की इस Snicker एड की सबसे ख़ास बात क्या है उर्मिला या रेखा???
नवनीत जी आपका बहुत -बहुत शुक्रिया आपके इस प्रश्न के लिए , इस संदर्भ में, मैं आपको एक ख़ास बात बताना चाहूँगा की 1981 में प्रदर्शित श्याम बेनेगल कृत "कलयुग" में रेखा मुख्य भूमिकाओ में थी और इस फिल्म में उर्मिला ने भी बतौर बाल कलाकार काम करते हुए उनके बेटे की भूमिका निभाई थी , तब रेखा सुपर स्टार थी , उसके करीब ढाई दशक बाद राम गोपाल वर्मा की फिल्म "भूत" में भी दोनों ने एक साथ स्क्रीन शेयर की, रेखा ने इस फिल्म में एक एहम किरदार निभाया , और रेखा तब भी पहली पंक्ति की अदाकारा थी, आज फिर से एक दशक बाद दोनों एक साथ हैं , और आज 31 साल बाद भी ना तो उन्होंने अपना ग्लैमर खोया है , और आज भी उनका जादू बरक़रार है , है ना अविश्वनीय , उर्मिला ने एक फिल्म की थी चमत्कार , पर सही मायनों में चमत्कार इसे कहते हैं, और हाँ एक ख़ास बात और मैं पहले चॉकलेट बिलकुल भी नहीं खाता था मगर SNICKER को खाने के बाद मैं चॉकलेट का दीवाना हो गया हूँ , आप भी खाकर देखो , आप भी दीवाने हो जाओगे ... अब आप शायद समझ ही गए होंगे की इस एड की ख़ास बात क्या है…………..
V.A. said…
Hello Rishabh,

So awards season is going on or rather almost over now. Rekha attended 3 shows this time and gave coveted awards of best actor & actress in Screen & Filmfare and 3 best actresses award at Stardust. I don't know if u are aware of that people on twitter & other forums either mock this as her mode of employment these days and some says enough of Rekha and want to see some other presenter. How do u feel about that? I know u are a fanatic fan of her so it won't bother u much but if u think rationally then what are ur views on rekha giving best actor or actress or both awards year after year? I was thinking about last year too, she presented 2 best actress and 2 best actor in 4 shows. In 2011 too I think she gave best actor(popular & critic) in screen , best actor & actress in filmfare. In 2010, she gave to vidya for Paa . I think it was at filmfare that she presented best film that year. So safely we can say that at least in last 3 years she has presented only best actor or actress or both. So would love to read ur views on it? Do u think it is she who negotiates with organizers for presenting these awards beforehand or do u think that it is just the organizers who year after year keep putting her name as presenter for same categories? As far as I know (thru FF editor Jitesh Pillaai rant on twitter last year) that stars do negotiate on which award they want to present or to whom they don't want. so what do u think? If u ask my personal view , as such I don't have much problems as I get to see her more but I do feel that I would be more happier to see her next time presenting in some different category.
Navneet Chabra said…
रिषभ जी रेखा एक बार फिर से अपनी आगामी फिल्म " सुपर नानी " से चर्चा में हैं, जैसा की फिल्म के नाम से ही पता चलता है की रेखा इसमें एक चरित्र की भूमिका निभाएंगी ,ऐसे में आपकी राय क्या है??
Dear VA, very sorry to you for this late reply, anyway come to your answer, Yes you are right that Award season is almost over, only IIFA is yet to come and if we talk about the Filmfare, Stardust & Screen awards then yes we can say that she is the first choice as a presenter of such award function, and please don’t surprise to know that She is giving such kinds of honor almost from two decades ago. Still I remember when King Khan SRK got his first Filmfare award (1992), not only for SRK , She became the “Lucky Masque” for many Stars, like SRK to Vidhya Balan and it continues…

Dear, I fully aware of that people on twitter & other forums, who says enough about her but dear One important thing is that such awards like Best Actor/ Actress are giving to increase new talent and it’s an honor for new generation’s stars to receive if it’s given by a legend ,and Rekha is the living Legend and one and only Superstar who ruled the Indian Cinema more than 4 Decades and her Iconic status, high persona and mystic aura makes her very Special,even today after 42 years of being in the Male Dominated industry, still she makes heads turn, pulses race high and manage to make heart flutter from her Charming Personality.

Year after year she had be there in the front row and people also used to see her presence and sit up at nights for a very long to catch a glimpse of her in any award function and the Magic still continues or you can say any celebration or Award ceremony is incomplete without the Queen of Million Hearts. Seriously I don’t bother and care what people say on Twitter or other forums. Me and other millions of people want to see more and more her and I am really thankful to all these awards organizers who made those evenings very special with her Charm and Grace. I still remember, in her interviews Rekha said about herself… she is God Chosen one or we can say she is the Awards chosen one.
नवनीत जी, हाँ, यह सही है की इन्द्र कुमार की आगामी फिल्म "सुपर नानी" से अभिनेत्री रेखा एक बार फिर से चर्चा में है , जैसा की फिल्म के शीर्षक "सुपर नानी" से ही पता चलता है की रेखा इस फिल्म में एक नानी की भूमिका निभाती हुई नज़र आएँगी , पर यह किरदार परम्परागत नानी से हटकर है, इन्द्र कुमार की यह फिल्म एक चर्चित गुजराती नाटक (Ba Ae Mari Boundary)पर आधारित है, रेखा द्वारा निभाए जाने वाला यह किरदार एक सामान्य चरित्र भूमिका ना होकर एक केंद्रीय पात्र है, यानी एक एहम भूमिका है, फिल्म की पूरी कहानी रेखा के आस- पास ही घूमती है, ठीक वैसे ही जैसे फिल्म "मदर इंडिया " में नरगिस एक चरित्र भूमिका में होकर भी फिल्म की मुख्य नायिका थी , बेशक मैं इन्द्र कुमार से ऐसी कोई बड़ी उम्मीद नहीं करता पर रेखा के इस तरह के कथानक के चुनाव पर थोडा अचंभित ज़रूर हूँ क्यूंकि साल 2003 में प्रदर्शित फिल्म कृष में रेखा को ऋतिक की दादी की भूमिका में देखकर अभिनेत्री सिमी ग्रेवाल ने कहा था की मैंने यह फिल्म नहीं देखी है क्यूंकि मैं उन्हें दादी की भूमिका में कैसे देख सकती हूँ?? अब इस बात से ही अंदाजा लगाया जा सकता है की सिर्फ बॉलीवुड ही नहीं बल्कि सिने प्रेमियों के दिलों दिमाग पर भी रेखा की छवि एक Glamors अभिनेत्री की रही है और आज भी लोग उनसे खून भरी मांग , बुलंदी, खिलाडियों का खिलाडी जैसी चुनौतीपूर्ण भूमिकाओ की उम्मीद रखते हैं, और आज मल्टीप्लेक्स के इस दौर में सुपर नानी जैसी फिल्मों को दर्शक कम ही मिलते हैं वो एक अलग बात है की रवि चोपड़ा कृत " बागबान " आज के समय को देखते हुए एक बेहतरीन और सफल कोशिश साबित हुई।
Prachi said…
रिषभ पिछले काफी समय से एक सवाल जो शायद मेरे ही नहीं बल्कि लाखों सिने प्रेमियों के दिलों में रह -रह कर उठ रहा की जिस तरह रेखा आजकल फ़िल्मी और गैर फ़िल्मी समारोह में सिन्दूर के साथ नज़र आ रही हैं, उसके पीछे क्या ख़ास वजह है ???

जबकि वो खुद जानती हैं की यह सब भारतीय संस्कृति के विरुद्ध है, मगर फिर भी वो ऐसा कर रही हैं क्यूँ???
चित्रलेखा said…
प्राची मैं भी तुम्हारे प्रश्न से बिलकुल सहमत हूँ की अभिनेत्री रेखा पिछले सभी Functions में सिन्दूर लगाती नज़र आई, उनके ऐसा करने से और भी ना जाने क्या -क्या सवाल मन में आये लेकिन काफी सोचने के बाद भी उनका ऐसा करने का कारण समझ नहीं आया , मगर उम्मीद है रिषभ जी का जवाब सारे सवालों को साफ़ कर देगा ...
प्राची और चित्रलेखा जी अगर मैं कहूँ की आपके इस सवाल का मेरे पास कोई जवाब नहीं है! तो??

क्यूंकि यह सवाल अपने आप में ही इतना उलझा हुआ है की इसका कोई सीधा जवाब हो ही नहीं सकता , इसका जवाब शायद किसी के पास ना हो सिवाय रेखा के या फिर वो भी जवाब में सिर्फ मुस्कुरा दें और वैसे भी हमेशा विवादों और सवालों से घिरी रेखा किसी भी विवाद या सवाल का जवाब नहीं देती फिर चाहे लोग कुछ भी समझे तभी उन्हें रहस्यमयी कहा जाता है मगर इसका मतलब यह नहीं की इस सवाल का जवाब नहीं है!

दरअसल इस सवाल का जवाब जानने के लिए आपको एक सामान्य व्यक्ति के मानसिक स्तर से ऊपर उठना होगा, सवाल के गर्भ में जाना होगा , चलना होगा रेखा के हर कदम के साथ , गुजरना होगा जिन्दगी के हर मोड़ , हर परिस्थिति और स्थिति के चक्रवय्हू से, समझना होगा उन इच्छाओ , सपनो को, जानना होगा उनकी मनस्थिति को और समझना होगा कठोर नियति को , जैसे एक डॉक्टर अपने मरीज़ का दर्द समझता है , जैसे एक माँ अपने बच्चे की ख़ामोशी समझती है , बहुत मुश्किल है ना?? वाकई बहुत मुश्किल है ये समझना और महसूस करना और उससे भी कहीं ज्यादा मुश्किल है " रेखा होना "

और अगर आप वाकई में यह सब कर पायेंगे तो सारे सवाल खत्म हो जायेंगे !
इतना आसान नहीं है दूसरे के दर्द से जुड़ना , जीवन की त्रासदियों और नियति से लड़- झगड़कर जिन्दा रहने की और जीते रहने की वजह दूंढना , मैं नहीं जानता की इस सवाल के जवाब से कितने लोग संतुष्ट होंगे और कितने नहीं लेकिन अगर हम समझना चाहे तो ज़रूर समझ पायेंगे ! मगर इतनी गहरी और विस्तृत और समृद्ध सोच की उम्मीद आप औसत बुद्धि वाले व्यक्ति से नहीं कर सकते!
ऐसा नहीं है की रेखा नहीं जानती की वो जो भी कर रही वो सही नहीं है , ऐसा करना हमारी संस्कृति और सभ्यता के खिलाफ है, तो क्या वो अपनी कुंठित भावनाओं से ग्रस्त हैं?
या फिर जिन्दगी का अधूरापन , भावनात्मक असुरक्षा के तहत वो ये सब करती हैं? या फिर चुटकी भर सिन्दूर से वो सदियों से दबी हुई अपनी इच्छा पूरी कर रही हैं? इसी संदर्भ में कुछ समय पहले ही मशहूर Journalist खालिद मोहम्मद को दिए गए इसी सवाल का जवाब अपने आप में संपूर्ण है, “ Sindoor Suits Me”

जवाब इनमे से ही कोई है ? या फिर सारी बातें अपने आप में जवाब है! पर यह भी सच है की उनका इस तरह से सिन्दूर लगाने का मतलब वो तो बिलकुल भी नहीं है जो आप समझ रहे हैं
और यह भी सच है की शायद वो इस सिन्दूर में कहीं न कहीं अपनी सम्पूर्णता दूंढ रही है पर इसका मतलब यह नहीं है की वो सिन्दूर का भाव और सम्मान करना नहीं जानती पर इससे भी बड़ा सच यह है की आज वो जिस ऊँचाई पर पहुँच चुकी हैं उन्हें संपूर्ण होने के लिए सिन्दूर की कोई आवश्यकता नहीं है, ठीक वैसे ही जैसे माँ "लता मंगेशकर" को माँ होने के लिए पति या विवाह की आवश्यकता नहीं!

उम्मीद है आप समझगें!!!
Vishal Khairnar said…
Lots of Q & A here for one woman...
So I only have one question
Why Mukesh Agrawal committed suicide after Marrying rekha???
Before you post you answer just think one thing that everybody love their own life than other life than why suicide is attempted after marrying a Most beautiful women by a milionier...
And last I don't want hurt any body but I have question still in my mind....

Rinku said…
Recently I enjoyed kapil Sharma Comedy show, in which Jawed Jafri was Guest, Kapil asked from Jawed that who is his favorite Comic actress then Jawed replied that Rekha is my favorite . M confused Rekha is his fav comic actress???
Dear Vishal,
Due to some reasons I couldn’t give your answer on time so Sorry to you for this delay.

Really I am so surprised to think that How anybody speaks about others without knowing him/her.

In 1990, Rekha married Delhi-based industrialist Mukesh Aggarwal. They look so happy together. Wonder what tragedy might have befallen this cute couple?? It’s really so disappointing to blame only Rekha for all this because she did not exactly put a gun to his head and shoot him. Yes she didn’t, so why Rekha is to be Blamed???

God alone knows that what problems she had and before saying anything to you must understand the Real truth of this untold saga.

Yes you are right that everybody love their own life than other life than why suicide is attempted after marrying. Yes I m also surprised that Nobody wants to kill himself/ herself because everybody love their own life. So why Mukesh attempts committed suicide so many times in past before marrying Rekha??
It was the bad luck of Rekha that he attempts several times for suicide in past but succeed this time only.

Even before marry to Rekha his family n friends taking extra precautions since his last suicide attempt. Mukesh agarwal was a mentally Sick Guy and the patient of his Doctor cum more than friend Psychiatrists Aakash Bajaj and he used to go his routine checkup normally and take drug pills to sleep. The Relationship of Akash Bajaj & Mukesh was also one of the reasons behind this.

After marrying Rekha, Mukesh continued his relationship with Aakash and give every facility to her. Even Aggarwal family doesn’t want to accept an actress as their Bahu. Mukesh never wants that Rekha do movies after Marriage but Rekha wants to fulfill her commitment which she done with her directors. Mukesh also wants to use the high contacts of Rekha for his Business purpose and there are many other reasons behind this Controversy.

BUT its sounds ridicules even to the ears to blame only Rekha for this.
That was the toughest time for Rekha because media shows her worst Image, her Director didn’t want to work with her, Rekha can never represents and convince because how can people accept a woman as Bharat ki Naari who is responsible for the death of her husband but after all this yellow journalism and criticism she face all the blame and gone through every pain. She cross the Agni Pariksha and become the Vijeta.

Dear if something happens wrong in someone’s life, people hide their faces and lost himself / herself but Rekha never thinks about it. Public want to know the Real Truth and her true fans wants justice for her. Rekha replied to all and proved it by her super hit Film “ Phool Bane Angaarey”. The success of this film was the proof that people still love her and strongly believes that she is Innocent.

The most important thing is that while Rekha was in the US—Mukesh committed suicide, after several previous attempts, leaving a note, "Don't blame anyone".. After this Note of Mukesh Agarwal why people blame on this Innocent woman.
But I just can say one thing it was the Biggest Mistake of Rekha’s life, she should know that Mukesh was not that Guy made for her. . It was the Wrong decision between in two strangers.

Dear Rinku, Its really interesting Question but have little Confusion. Jawed Jafrri has good sense of humor but may be he is not able to express what he wants to say? Because Rekha is not a Comic actress, she is the Fantastic versatile Actress of Bollywood who define comedy in her own way and set the Trend for others. She is a Great Mimic Artist and mesmerized people with her perfect Comic Timings in " Khoobsurat, Jhooti, Bindiya Chamekegi, Soorma Bhopali etc. in her 43 years long career she never typed herself in any Image. I hope you satisfied with my answer.
Anonymous said…
May I know mobile number of Rekha ji
Dear Friend, Thanks for your question, I can understand your feelings but dear very Sorry to say that we have her mobile number.
Oldest Older 401 – 569 of 569

Popular posts from this blog